S M L

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों को अपने मंत्री के इस्तीफे का पता रेडियो से चला

कैबिनेट के सबसे सम्मानित सदस्यों में शामिल निकोलस ने फ्रांस इंटर रेडियो स्टेशन पर इस्तीफे की घोषणा करके इंटरव्यू लेने वालों को भी चौंका दिया

Updated On: Aug 28, 2018 05:57 PM IST

Bhasha

0
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों को अपने मंत्री के इस्तीफे का पता रेडियो से चला

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के लोकप्रिय पर्यावरण मंत्री निकोलस हुलोट ने रेडियो पर सीधे प्रसारण के दौरान इस्तीफा दे दिया. इससे इमैनुअल को करारा सियासी झटका लगा है. निकोलस ने राष्ट्रपति को अपने इस्तीफे की जानकारी पहले नहीं दी थी.

कैबिनेट के सबसे सम्मानित सदस्यों में शामिल निकोलस ने फ्रांस इंटर रेडियो स्टेशन पर इस्तीफे की घोषणा करके इंटरव्यू लेने वालों को भी चौंका दिया. निकोलस (62) ने कहा, 'मैं सरकार छोड़ने का फैसला ले रहा हूं.'  पर्यावरण के मुद्दों पर सरकार के भीतर वह खुद को ‘बिल्कुल अकेला’ महसूस कर रहे थे इस कारण से उन्होंने इस्तीफा दिया है.

क्यों दिया इस्तीफा?

पर्यावरण से जुड़े मुद्दों पर मुहिम चलाने के लिए मशहूर टीवी शख्सियत रहे निकोलस को मैक्रों ने पिछले साल सरकार में शामिल किया था. लेकिन नीतिगत मुद्दों पर कैबिनेट सहकर्मियों से बार-बार उनके मतभेद हो रहे थे.

उन्होंने कहा, ‘हम छोटे-छोटे कदम उठा रहे हैं और फ्रांस कई अन्य देशों से कहीं ज्यादा कर रहा है, लेकिन क्या छोटे-छोटे कदम काफी हैं? जवाब है - नहीं.’

सरकार में निकोलस के भविष्य पर पिछले कई महीनों से अटकलों का बाजार गर्म था. निकोलस ने कहा कि अपने इस्तीफे की योजना के बारे में उन्होंने न तो मैक्रों और न ही प्रधानमंत्री एडुअर्ड फिलिप को सूचना दी थी.

निकोलस के इस्तीफे के बाद मैक्रों (40) की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं. फ्रांस में कम वृद्धि दर और बेरोजगारी की ऊंची दर की दशकों पुरानी समस्या को सुलझाने और यूरोपीय संघ में सुधार के वादे के साथ वो पिछले साल मई में सत्ता में आए थे. लेकिन आर्थिक और कूटनीतिक मोर्चे पर मैक्रों को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi