S M L

फॉर्टिस के CEO की सैलरी में अभूतपूर्व इजाफा, कंपनी ने कहा- टाइपिंग मिस्टेक

भवदीप सिंह के सीईओ रहते हुए फॉर्टिस हेल्थकेयर को 2015-16 में 73.5 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ, जबकि अगले साल यानी 2016-17 में ये घाटा बढ़ कर 74.7 करोड़ रुपए पर पहुंच गया

Updated On: Jul 05, 2018 09:31 PM IST

FP Staff

0
फॉर्टिस के CEO की सैलरी में अभूतपूर्व इजाफा, कंपनी ने कहा- टाइपिंग मिस्टेक

फोर्टिस हेल्थ केयर को लेकर आ रही तमाम खबरों के बीच कंपनी के मालिक की बढ़ रही सैलरी को लेकर आई खबर से उम्मीद की को झटका लगा. एक ऐसी उम्मीद को जिसे हम कंपनी के कारोबार से अलग होकर देख रहे थे.

फॉर्टिस हेथ्लकेयर लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी भवदीप सिंह की सैलरी जुलाई 2015 और मार्च 2017 के बीच चार गुना बढ़ गई. वो भी तब जब कपंनी की माली हालत ठीक नहीं थी.

कंपनी की 2015-16 और 2016-17 की सालाना रिपोर्ट में कहा गया गया है कि जुलाई 2015 में भवदीप सिंह को 3.91 करोड़ रुपये की सैलरी पर रखा गया था. अगले साल उनकी सैलरी बढ़ कर 16.80 करोड़ रुपये हो गई. इतना ही नहीं उन्हें कंपनी ज्वॉइन करने पर 7.23 करोड़ रुपये का बोनस भी दिया गया. इसके अलावा भवदीप सिंह को 25 लाख शेयर भी दिए गए.

खास बात ये है कि भवदीप सिंह के सीईओ रहते हुए फोर्टिस हेल्थकेयर को 2015-16 में 73.5 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. जबकि, अगले साल यानी 2016-17 में ये घाटा बढ़ कर 74.7 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. 'Mint' की एक रिपोर्ट में ये जानकारी दी गई है.

'Mint' ने जब कंपनी से ईमेल पर जवाब मांगा, तो फोर्टिस के प्रवक्ता ने कहा, 'ये जानकारी गलत है. दरअसल वित्त वर्ष 2016-17 की सालाना रिपोर्ट में कुछ टाइपो एरर (गलत संख्या) छप गई थी. हम इसके बारे में जानते हैं और 2017-18 की रिपोर्ट में इस गलती को सुधारा जाएगा. हकीकत में, पिछले दो सालों में हर साल उनकी आय 6 से 8% बढ़ी है. जो कि आज देश के मानदंडों के मुताबिक ज़्यादा नहीं है.'

कंपनी के प्रवक्ता से बार-बार ये पूछा गया कि क्या इस गलती के बारे में स्टॉक एक्सचेंज और रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज को कोई जानकारी दी गई है? लेकिन इसके बारे में प्रवक्ता ने कुछ भी नहीं बताया.

साल 2008-09 के बाद पहली बार फोर्टिस ने 2014-15 में 34 करोड़ रुपये का नुकसान दिखाया था. प्रॉक्सी फर्म इनगोर्न रिसर्च के संस्थापक और प्रबंध निदेशक श्रीराम सुब्रमण्यम ने कहा, 'कंपनी के खराब प्रदर्शन के बावजूद सीईओ की सैलरी बढ़ा दी गई, ताकि सीईओ चुप रह सके और आप गलत काम करते रहें.' बता दें कि फिलहाल फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड में गड़बड़ियों की जांच चल रही है.

(साभार न्यूज-18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi