S M L

मां को हिंदुस्तान से अमेरिका बुलाया ताकि पत्नी को ढंग से पीट सके

यूनिसेफ की 2012 की रिपोर्ट कहती है कि 57 फीसदी भारतीय पुरुष पत्नी के साथ हिंसा को सही मानते हैं

Updated On: Sep 06, 2017 07:13 PM IST

FP Staff

0
मां को हिंदुस्तान से अमेरिका बुलाया ताकि पत्नी को ढंग से पीट सके

अक्सर लोग किसी खुशी के मौके या त्योहार पर दूर रह रहे मां-बाप को अपने घर बुलाते हैं. अमेरिका के टैंपा शहर में रह रहे दलबीर कलसी ने भी हिंदुस्तान से अपने मां-बाप को बुलाया. ताकि वो अपनी बीवी को 'लाइन पर' ला सके.

वॉशिंग्टन पोस्ट की खबर के मुताबिक अमेरिका के फ्लोरिडा में टैंपा शहर में रहने वाले दलबीर ने अपने मां-बाप को हिंदुस्तान से अमेमिका बुलाया ताकि वो उनके साथ मिलकर अपनी पत्नी सिल्की गेंड को पीट सके.

वहां के शेरिफ दफ्तर के मुताबिक सिल्की ने उनसे फोन करके मदद की गुजारिश की. अधिकारियों के पहुंचने पर पहले दरवाजा नहीं खुला. ज़बरदस्ती दरवाजा खुलवाने पर सिल्की अपने एक साल के बच्चे के साथ एक कमरे में कैद मिली. पुलिस का कहना है कि उसके पूरे शरीर पर चोट के गंभीर निशान हैं.

शुरुआती जांच में पता चला है कि दलबीर ने अपनी पत्नी को कई बार बुरी तरह से पीटा. इसके बाद जब सिल्की ने घर छोड़कर जाने की बात की तो उसने अपने मां-बांप को भी बुला लिया.

एक दिन पिटाई के वक्त सिल्की की एक साल की बेटी दलबीर के सामने आ गई. जिससे उसे भी बुरी तरह चोट लग गई. इसके बाद उसने सिल्की को कमरे में बंद कर दिया.

67 साल के जसबीर कलसी और 61 साल की भूपिंदर कलसी इसके बाद कमरे के अंदर जाते और सिल्की को पीटते थे. फिलहाल तीनों जेल में हैं. तीनों पर घरेलू हिंसा और धमकाने का मामला दर्ज हुआ है. जबकि बाप बेटे पर चाइल्ड एब्यूज़ का केस भी दर्ज किया गया है.

यूनिसेफ की 2012 की रिपोर्ट कहती है कि 57 फीसदी भारतीय पुरुष पत्नी के साथ हिंसा को सही मानते हैं. वहीं 2013 की रिपोर्ट के अनुसार दहेज से जुड़ी प्रताड़ना में सबसे ज्यादा दोषी लड़के की मां होती है.

अमेरिकी अखबारों की खबरों के मुताबिक आस-पास के लोग इस बात से भौंचक्के हैं कि कोई अपनी पत्नी को पीट सकता है और उसके लिए अपनी मां की मदद ले सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi