live
S M L

टीचर के पास हथियार होते तो नहीं मारे जाते बच्चे: डोनाल्ड ट्रंप

15 फरवरी को फ्लोरिडा के स्कूल में पूर्व छात्र ने अंधाधुंध फायरिंग की थी जिसमें 17 लोग मारे गए थे और दर्जनों छात्र घायल हो गए थे

Updated On: Feb 22, 2018 10:12 AM IST

Bhasha

0
टीचर के पास हथियार होते तो नहीं मारे जाते बच्चे: डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फ्लोरिडा के स्कूल में गोलीबारी में सुरक्षित बचे विद्यार्थियों के साथ बेहद भावनात्मक बातचीत के दौरान शिक्षकों को हथियार चलाने का प्रशिक्षण देने और उन्हें हथियार रखने का सुझाव दिया. साथ ही बंदूकें रखने वालों की पृष्ठभूमि की कड़ी जांच करने की बात कही.

वाइट हाउस में मार्जोरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल के विद्यार्थियों से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा, ‘मैं आपका पक्ष सुनना चाहता हूं, लेकिन इससे पहले की हम शुरुआत करें, मैं आपको बता दूं कि अब पृष्ठभूमि की कड़ाई से जांच की जाएगी और किसी भी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा.’

ट्रंप ने यह भी सलाह दी कि कुछ शिक्षकों को हथियार चलाने का प्रशिक्षण दिया जा सकता है ताकि वह बंदूकधारी को रोक सकें. राष्ट्रपति ने कहा, ‘यह सिर्फ उन्हीं के लिए होगा जो बंदूक चला सकने में सक्षम हैं.’

उन्होंने कहा कि शिक्षकों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा. वह मौजूद रहेंगे और अब कोई ‘गन फ्री जोन’ नहीं होगा. ट्रंप ने समझाया कि यहां ‘गन फ्री जोन’ का मतलब है ‘ऐसी जगह जहां आप आसानी से बंदूक के साथ जाकर, हमला कर सकते हैं.'

15 फरवरी को फ्लोरिडा के स्कूल में पूर्व छात्र ने अंधाधुंध फायरिंग की थी जिसमें 17 लोग मारे गए थे और दर्जनों छात्र घायल हो गए थे. पुलिस ने गोलीबारी करने वाले छात्र को गिरफ्तार कर लिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi