S M L

देश को बदनाम करने के लिए US में पूर्व पाक राजदूत हक्कानी के खिलाफ FIR

शिकायकर्ताओं ने आरोप लगाया कि पूर्व राजदूत ने देश को अपूरणीय क्षति पहुंचाई और उसे बदनाम किया

Bhasha Updated On: Jan 22, 2018 03:36 PM IST

0
देश को बदनाम करने के लिए US में पूर्व पाक राजदूत हक्कानी के खिलाफ FIR

अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी के खिलाफ पाकिस्तान की सेना और उसकी सरकार को बदनाम करने वाली किताबें और लेख लिखने और नफरत फैलाने वाले भाषण देने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है.

‘डान न्यूज’ ने बताया कि पश्चिमोत्तर पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में कोहाट जिले के दो पुलिस थानों में तीन लोगों द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में हक्कानी का नाम है.

मोमिन, मोहम्मद असगर और शमसुल हक ने कैंटोनमेंट और बिलिटांग पुलिस थानों में तीन एफआईआर दर्ज कराईं.

शिकायकर्ताओं ने आरोप लगाया कि पूर्व राजदूत ने देश को अपूरणीय क्षति पहुंचाई और उसे बदनाम किया.

मेमोगेट घोटाले में शामिल हक्कानी

असगर ने एफआईआर में आरोप लगाया कि मेमोगेट घोटाले में हक्कानी शामिल था और उसने अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत के तौर पर सेवाएं देते समय ‘सीआईए और भारतीय एजेंटों’ को वीजा जारी किए.

उन्होंने अमेरिका में वर्ष 2008 से 2011 तक राजदूत के रूप में सेवाएं दीं. मेमोगेट विवाद में कथित भूमिका के लिए उन्हें पद से हटा दिया गया था.

पुलिस ने एफआईआर में पाकिस्तान दंड संहिता की धाराओं 120 बी (आपराधिक षड्यंत्र रचने) और 121 ए (पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेड़ना) का प्रयोग किया है.

श्रीलंका में भी पाकिस्तान के राजदूत रह चुके हैं

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उचित प्रक्रिया के तहत हक्कानी को आत्मसमर्पण कर देना चाहिए अन्यथा उन्हें भगौड़ा घोषित किया जाएगा.

वर्ष 1992 से 1993 तक श्रीलंका में पाकिस्तान के राजदूत के रूप में भी सेवाएं दे चुके हक्कानी की ‘द वॉशिंगटन पोस्ट’ में छपे एक लेख के कारण संसद ने भी निंदा की थी. हक्कानी ने लिखा था कि उन्होंने अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन के खात्मे में अमेरिकी बलों की मदद की जबकि सरकार और आईएसआई को इस खुफिया अभियान के बारे में अंधेरे में रखा गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi