S M L

फेसबुक ने किया बड़ा खुलासा, 2.9 करोड़ यूजर्स का डेटा हुआ चोरी

विश्व की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट्स में से एक फेसबुक ने अपने बयान में कहा है कि साइबर हमले की वजह से बीते कुछ समय में विश्वभर के 5 करोड़ अकाउंट प्रभावित हुए हैं

Updated On: Oct 13, 2018 10:23 AM IST

FP Staff

0
फेसबुक ने किया बड़ा खुलासा, 2.9 करोड़ यूजर्स का डेटा हुआ चोरी

सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने उपभोक्ताओं के डाटा को लेकर शुक्रवार देर रात एक बड़ा चौकाने वाला खुलासा किया है. फेसबुक की तरफ से बताया गया है कि हैकर्स ने अभी तक विश्वभर के 29 मिलियन (2.9 करोड़) उपभोक्ताओं के डेटा को एक्सेस कर लिया है. फेसबुक के अनुसार हैकर्स ने यह काम पिछले महीने किया है. विश्व की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट्स में से एक फेसबुक ने अपने बयान में कहा है कि साइबर हमले की वजह से बीते कुछ समय में विश्वभर के 5 करोड़ अकाउंट प्रभावित हुए हैं.

डेटा एक्सेस के लिए विशेष तरह के सॉफ्टवेयर का हुआ इस्तेमाल

फेसबुक ने बताया कि हैकर्स ने इतनी बड़ी संख्या में डेटा एक्सेस के लिए विशेष तरह के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया है. इस सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से वह खुद ब खुद किसी भी अकाउंट में लॉगइन कर सकते हैं. फेसबुक के प्रोडक्ट मैनेजमेंट के वाइस प्रेसिडेंट गाय रोसेन ने कहा- अब हमें इस बात की जानकारी है कि कुछ लोग भी आपस में मिलकर इस तरह का बड़ा नुकसान कर सकते हैं. गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही फेसबुक ने उपभोक्ताओं के डेटा को सुरक्षित करने के लिए कई कड़े कदम उठाए थे. इन्हीं में से एक था ऐसे एप के खिलाफ कार्रवाई करना जो उपभोक्ताओं के डेटा चोरी करता है.

नए एप फेसबुक पर बतौर यूजर पोस्ट करने में सक्षम नहीं होंगे

फेसबुक ने कई एप्स के खिलाफ कार्रवाई शुरू की थी, जो इजाजत के बिना उसके मंच के साथ-साथ इंस्टाग्राम से उपभोक्ताओं की जानकारियां चुरा, साझा और लीक कर रहे हैं. उस दौरान फेसबुक के डेवलपर द्वारा किए गए एक पोस्ट में फेसबुक ने कहा था कि नए एप फेसबुक पर बतौर यूजर पोस्ट करने में सक्षम नहीं होंगे. फेसबुक के मुताबिक, इनको पोस्ट करने की इजाजत देना अनुचित होगा. इस अनुमति से एप फेसबुक पर बतौर यूजर पोस्ट प्रकाशित करने में सक्षम हो जाते थे.

किसी एप को पोस्ट प्रकाशित करने की इजाजत अब नहीं दी जाएगी

फेसबुक पोस्ट में कहा गया है- वह एप जो आज से पहले बने हुए थे, जिन्हें पोस्ट प्रकाशित करने की मंजूरी मिली हुई थी, अब उसमें बदलाव किया गया है. अब से किसी एप को पोस्ट प्रकाशित करने की इजाजत तब तक नहीं दी जाएगी, जब तक वह एप समीक्षा के माध्यम से नहीं गुजरती. ब्रिटिश राजनीतिक सलाहकार फर्म कैंब्रिज एनालिटिका को फेसबुक क्विज एप द्वारा इकठ्ठा किए गए यूजर्स के डेटा का गलत इस्तेमाल करते हुए पाया गया था. क्विज एप में फेसबुक फीचर के साथ लॉगइन कर इसका उपयोग किया जाता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi