S M L

Ethiopian Airlines Plane Crash: छह भारतीयों समेत 157 लोगों की मौत, सुषमा स्वराज ने Indian Embassy को दिया मदद का निर्देश

मारे गए यात्रियों में 35 देशों के नागरिक और United Nation के पासपोर्ट वाला एक व्यक्ति शामिल है. सबसे ज्यादा केन्या के 32 नागरिकों की इस हादसे में मौत हुई है

Updated On: Mar 11, 2019 01:04 PM IST

FP Staff

0
Ethiopian Airlines Plane Crash: छह भारतीयों समेत 157 लोगों की मौत, सुषमा स्वराज ने Indian Embassy को दिया मदद का निर्देश

इथोपियन एयरलाइंस का एक विमान रविवार सुबह क्रैश (Ethiopian Plane Crash) हो गया. इस हवाई दुर्घटना में विमान में सवार छह भारतीय नागरिकों समेत सभी 157 लोगों की मौत हो गई.

यह विमान इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से नैरोबी के लिए उड़ान भरने के चंद मिनटों बाद क्रैश हो गया.

एयरलाइन के सीईओ टी. गेब्रेमरियम ने बताया कि विमान ने अदीस अबाबा के बोले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा से रविवार सुबह आठ बजकर 38 मिनट पर उड़ान भरा था. लेकिन ईटी 302 छह मिनट बाद सुबह आठ बजकर 44 मिनट पर राजधानी के दक्षिणपूर्व में करीब 60 किलोमीटर दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

मारे गए यात्रियों में 35 देशों के नागरिक और संयुक्त राष्ट्र (United Nation) के पासपोर्ट वाला एक व्यक्ति शामिल है. इथोपियन एयरलाइन ने बताया कि मृतकों में सबसे ज्यादा 32 लोग केन्या के हैं. इसके बाद कनाडा के 18, इथोपिया के नौ, इटली, चीन और अमेरिका के आठ-आठ नागरिक शामिल हैं. मृतकों में ब्रिटेन और फ्रांस के सात-सात, मिस्र के छह, जर्मनी के पांच लोग शामिल हैं. इसके अलावा मृतकों में अफ्रीका के 12 देशों और यूरोप के 14 देशों के नागरिक शामिल हैं.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर इथोपियन एयरलाइंस के क्रैश विमान में एक भारतीय परिवार के छह सदस्यों के मारे जाने की पुष्टि की. उन्होंने विमान हादसे पर शोक जताते हुए बताया कि मारे गए भारतीयों के नाम- वैद्य पन्नागेश भास्कर, वैद्य हासिन अन्नागेश, नुकावारपु मनीषा और शिखा गर्ग हैं. उन्होंने कहा कि इथियोपिया स्थित उच्चायुक्त से भारतीय मृतकों के परिवार वालों की हर तरह की मदद करने को कहा गया है.

वहीं केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि इस हादसे में मारे गए लोगों में यूएनडीपी की सलाहकार शिखा गर्ग भी शामिल हैं.

दुनिया भर के नेताओं ने विमान दुर्घटना पर गहरा दुख जताया

दुनिया भर के नेताओं ने भी बोइंग 737 (विमान) की दुर्घटना पर गहरा दुख जताया है. दुर्घटना में मारे गए लोगों की पहचान सामने आने के साथ ही नैरोबी के केन्यात्ता अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा (जेकेआईए) पर शोक में डूबे लोगों का जुटना शुरू हो गया.

स्लोवाक के सांसद एंतोना हरन्को ने फेसबुक पर लिखा, ‘मुझे यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि आज सुबह (रविवार) अदीस अबाबा में हुए विमान हादसे में मेरी प्रिय पत्नी ब्लंका, बेटा मार्टिन और बेटी मकेला की मौत हो गई है.’

विमान में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के कम से कम एक स्टॉफ सदस्य सवार थे. संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की नैरोबी में वार्षिक बैठक सोमवार से शुरू हो रही है जिसमें, राष्ट्र अध्यक्ष, मंत्री, कारोबारी नेता, संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारी और सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे.

हादसे के बाद विमान कंपनी ने ट्विटर पर अपना लोगो बदलकर अश्वेत और श्वेत कर लिया है. कंपनी ने कहा कि हादसे में कोई जीवित नहीं बचा है.

एयरलाइन के सीईओ गेब्रेमरियम ने बताया कि दुर्घटना की जांच इथोपिया और अमेरिकी जांचकर्ता करेंगे. उन्होंने बताया कि यह विमान रविवार को जोहिन्सबर्ग से आया था और तीन घंटे अदीस अबाबा में रहा था और इसमें कोई परेशानी नहीं थी.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi