S M L

धोखाधड़ी का आरोप झेल रहे एलॉन मस्क टेस्ला के चेयरमैन पद से देंगे इस्तीफा

मस्क को 45 दिनों के अंदर इस्तीफा देना होगा. इसके अलावा वो अगले तीन सालों के लिए चेयरमैन के रूप में कोई पद स्वीकार नहीं करेंगे

Updated On: Sep 30, 2018 05:28 PM IST

FP Staff

0
धोखाधड़ी का आरोप झेल रहे एलॉन मस्क टेस्ला के चेयरमैन पद से देंगे इस्तीफा

एलॉन मस्क टेस्ला के चेयरमैन पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हो गए हैं. इसी के साथ वे अमेरिकी सिक्यॉरिटी ऐंड एक्सचेंज कमिशन (एसईसी) को 2 करोड़ अमेरिकी डॉलर का जुर्माना भी भरेंगे. दरअसल एलॉन मस्क पर आरोप है कि उन्होंने अपनी कंपनी को प्राइवेट करने संबंधी गलत ट्वीट्स किए. इसके चलते निवेशकों के बीच भ्रम की स्थिति पैदा हुई.

बताया जा रहा है कि मस्क को 45 दिनों के अंदर इस्तीफा देना होगा. इसके अलावा वो अगले तीन सालों के लिए चेयरमैन के रूप में कोई पद स्वीकार नहीं करेंगे. हालांकि वो टेस्ला कार के सीईओ पद पर बने रहेंगे. जानाकारी के मुताबिक वह दो स्वतंत्र डायरेक्टरों को बोर्ड में शामिल करेंगे और स्वतंत्र डायरेक्टरों की एक कमिटी बनाएंगे.

किसने की थी एलॉन मस्क के खिलाफ शिकायत?

इस मामले में एसईसी ने एक संघीय अदालत में याचिका दायर करके टेस्ला से एलॉन मस्क को निकालने की मांग की थी. एजेंसी ने गुरुवार को दर्ज शिकायत में कहा कि मस्क ने टेस्ला को प्राइवेट बनाने के लिए फंडिंग की व्यवस्था हो जाने के संबंध में सात अगस्त को ट्विटर पर गलत बयान दिया था. मस्क ने तब दावा किया था कि टेस्ला को प्राइवेट बनाने के लिए 420 रुपए प्रति शेयर की दर से फंडिंग की व्यवस्था हो गई है. यह कीमत टेस्ला के शेयरों की तत्कालीन बाजार दर से काफी ज्यादा थी.

आयोग ने जारी बयान में कहा है कि उसने मैनहट्टन की जिला अदालत से मस्क को किसी भी सार्वजनिक कंपनी के निदेशक या अधिकारी पद पर कार्य करने से रोके जाने की मांग की है. एजेंसी ने दीवानी मुकदमा समेत गलत बयान से हुए किसी भी प्रकार के फायदे का पुनर्भुगतान करने और मस्क को गलत और बरगलाने वाले बयान से रोकने के आदेश की भी मांग की है.

आरोपों पर मस्क की सफाई

वहीं टेस्ला की तरफ से जारी बयान में मस्क ने आयोग के कदम को अन्याय करार दिया था और उन पर लगाए गए सारे आरोपों को खारिज किया था. उन्होंने कहा, ‘मैंने हमेशा ही सत्य, पारदर्शिता और निवेशकों के भले के लिए कदम उठाया है. सत्यनिष्ठा मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा मूल्य है और तथ्यों से मालूम होगा कि मैंने इनसे कभी समझौता नहीं किया है.

क्या था मस्क का ट्वीट?

मस्क ने 7 अगस्त को ट्वीट किया था कि उन्होंने इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला को प्राइवेटाइज  करने के लिए 420 डॉलर प्रति शेयर पर फंडिंग हासिल कर ली है. एलॉन मस्क के इस ट्वीट से टेस्ला के शेयरों की कीमतों में तेजी आई. कमीशन ने कहा है कि ट्विटर पर दिए गए मस्क के बयान गलत और भ्रामक हैं. मस्क ने अपनी इस योजना के बारे में कभी भी कंपनी के अधिकारियों और संभावित निवेशकों से कोई बातचीत नहीं की.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi