Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

अर्थ डे 2017: आखिर 22 अप्रैल को ही क्यों मनाया जाता है पृथ्वी दिवस?

वन महोत्सव ही बाद में अर्थ डे के रूप में मनाया गया लेकिन इसकी शुरूआत कैसे हुई?

FP Staff Updated On: Apr 22, 2017 09:56 AM IST

0
अर्थ डे 2017: आखिर 22 अप्रैल को ही क्यों मनाया जाता है पृथ्वी दिवस?

22 अप्रैल यानी अर्थ डे यानी कि आज पृथ्वी दिवस मनाया जा रहा है.

- सबसे पहले अर्थ डे 22 अप्रैल, 1970 को मनाया गया था.

- 1970 में पहले 'अर्थ डे' पर अमेरिका में कॉलेज और यूनिवर्सिटीज कैंपसों में लगभग 2 करोड़ लोग इकट्ठे हुए थे. अब तक पर्यावरण को लेकर इतना बड़ा आयोजन नहीं हुआ था.

- पर्यावरण और प्रदूषण को लेकर लोग फैक्ट्री, पॉवर प्लांट, सीवेज और पेस्टीसाइड्स का विरोध करते थे. लेकिन अर्थ डे ने सबको एक साथ एक मंच पर अपनी बात रखने का मौका दिया.

- विस्कॉन्सिन के सीनेटर गेलॉर्ड नेल्सन ने 22 अप्रैल को अर्थ डे के लिए प्रस्तावित किया तो वहीं सैन फ्रांसिस्को के एक्टिविस्ट जॉन मैक्कॉनेल ने 21 मार्च को होने वाले स्प्रिंग इक्विनॉक्स (जब दिन और रात बराबर होते हैं) को इस आयोजन के लिए प्रस्तावित किया था. लेकिन आखिर में 22 अप्रैल ही अर्थ डे के लिए चुना गया.

यह भी पढ़ें: 'फॉरेस्ट मैन' जिसने बंजर को बनाया घना जंगल

लेकिन क्या आप जानते हैं अर्थ डे के लिए 22 अप्रैल को ही क्यों चुना गया?

- इसकी नींव 1872 में ही रख दी गई थी. नेब्रास्का के राइटर और वहां के पहले न्यूजपेपर के एडिटर जे. स्टर्लिंग मॉर्टन ने स्टेट बोर्ड ऑफ एग्रीकल्चर की मीटिंग में 10 अप्रैल को वन महोत्सव के लिए प्रस्तावित किया था. उन्होंने सबसे ज्यादा पेड़ लगाने वाली कम्युनिटी को इनाम देने जैसी योजनाएं भी सामने रखी.

- 10 अप्रैल को मनाए जा रहे वन महोत्सव को लीगल हॉलीडे घोषित कर दिया गया और बाद में इसकी तारीख बदलकर मॉर्टन के जन्मदिन 22 अप्रैल को रख दी गई.

यह भी पढ़ें: गूगल डूडल की जुबानी, पृथ्वी के भविष्य की कहानी

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi