S M L

दुबई: शाम के वक्त औरतें न्यूज एंकरिंग नहीं करती थीं..लेकिन अब करेंगी

इस देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब एक महिला जर्नलिस्ट ने टीवी पर बतौर एंकर न्यूज बुलेटिन पढ़ा

Updated On: Sep 24, 2018 12:11 PM IST

FP Staff

0
दुबई: शाम के वक्त औरतें न्यूज एंकरिंग नहीं करती थीं..लेकिन अब करेंगी

सऊदी अरब के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब एक महिला जर्नलिस्ट ने टीवी पर बतौर एंकर न्यूज बुलेटिन पढ़ा. सऊदी की अखबार खलीज टाइम्स के मुताबिक वीम अल दखील ने पहली बार सऊदी टीवी पर बतौर एंकर रात की बुलेटिन पढ़ी.

सऊदी टीवी ने अपनी ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल पर वीम अल दखील को बधाई देते हुए लिखा, 'इसके पहले 2016 में जुमाना अलशेमी ने पहली बार टीवी पर सुबह की बुलेटिन पढ़ा था. आज इतिहास ने खुद को दोबारा दोहराया है और पहली बार रात की बुलेटिन एक महिला जर्नलिस्ट ने पढ़ा है. सऊदी टीवी1 के इतिहास में यह एक बेहद ही बढ़िया मौका है जब किसी महिला ने एंकरिंग की है.'

सऊदी अरब जैसे देश में एक महिला एंकर का न्यूज बुलेटिन पढ़ना, वो भी शाम में बेहद ही चौंकाने वाला है. इसे चौंकाने वाला इसलिए कहेंगे क्योंकि सऊदी एक बहुत ही पारंपरिक देश है. यहां रहने वाली महिलाओं पर अलग से गार्जियनशीप लागू हुआ करता था. गार्जियनशीप लॉ एक ऐसा कानून है जो महिलाओं को बिना किसी पुरुष के बाहर निकलने की इजाजत नहीं देता . यहां तक की यहां कि महिलाओं को नाचने-गाने से लेकर बास्केट बॉल खेलने, स्टेडियम में मैच देखने, ड्राइव करने की भी इजाजत नहीं थी.

लेकिन जबसे सऊदी के प्रिंस 'मोहम्मद बीन सलमान' बने हैं, उन्होंने महिलाओं के हक और आजादी को लेकर कई बदलाव किए हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi