S M L

ट्रंप ने ठुकराया गणतंत्र दिवस पर भारत आने का न्योता, S-400 डील बनी वजह

26 जनवरी के दौरान ही ट्रंप का स्टेट ऑफ यूनियन संबोधन और कुछ राजनीतिक कार्यक्रम निर्धारित हो सकते हैं

Updated On: Oct 28, 2018 12:00 PM IST

FP Staff

0
ट्रंप ने ठुकराया गणतंत्र दिवस पर भारत आने का न्योता, S-400 डील बनी वजह
Loading...

रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम डील और ईरान से तेल करार के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गणतंत्र दिवस पर बतौर चीफ गेस्‍ट भारत आने के मोदी सरकार के न्‍योते को ठुकरा दिया है. न्यूज 18 की खबर के अनुसार अमेरिकी अधिकारियों ने भारत के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को चिट्ठी के माध्यम से यह जानकारी दी है. सूत्रों की मानें तो 26 जनवरी के दौरान ही ट्रंप का स्टेट ऑफ यूनियन संबोधन और कुछ राजनीतिक कार्यक्रम निर्धारित हो सकते हैं.

ईरान से तेल आयात के कारण भारत-अमेरिका के बीच तनाव का माहौल

भारत ने अप्रैल महीने में अमेरिकी राष्ट्रपति को गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत आने का न्योता भेजा था. अमेरिकी अधिकारियों ने निमंत्रण प्राप्त होने की जानकारी दी थी और कहा था कि 2 + 2 वार्ता के बाद जवाब दिया जाएगा. रूस से भारत की रक्षा खरीद और ईरान से तेल आयात के कारण भारत और अमेरिका के बीच तनाव का माहौल है. हाल ही में भारत ने अमेरिकी प्रतिबंधों की धमकी के बावजूद रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम डील फाइनल की थी, जिसकी रूस के राजदूत निकोलय कुदाशेव ने तारीफ भी की थी.

भारत सिर्फ संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों का पालन करता है

इसके बाद भारत ने ईरान से तेल आयात रोकने और उसमें भारी कटौती करने जैसे अमेरिकी दबाव को भी खारिज कर दिया था. इससे पहले भारत में 2+2 वार्ता के दौरान अमेरिकी रक्षा मंत्री माइक पोंपियो ने कहा था कि अमेरिका को उम्मीद है कि भारत 4 नवंबर तक प्रतिबंधों से बचने के लिए ईरान से तेल आयात पर पूरी तरह से रोक लगाएगा. हालांकि भारत ने इस पर बहुत ही साफ शब्दों में जवाब दिया था कि भारत सिर्फ संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों का पालन करता है. भारत की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों ने ईरान की कंपनियों को तेल का नया ऑर्डर भी दे दिया है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi