S M L

इमिग्रेशन पर बदले ट्रंप के सुर, कहा- चाहता हूं ज्यादा संख्या में आएं प्रवासी

डोनाल्ड ट्रंप अब ज्यादा संख्या में वैध प्रवासियों के देश में आने के पक्ष में हैं क्योंकि उनसे देश को आर्थिक लाभ होता है

Updated On: Feb 07, 2019 02:08 PM IST

Bhasha

0
इमिग्रेशन पर बदले ट्रंप के सुर, कहा- चाहता हूं ज्यादा संख्या में आएं प्रवासी

प्रवासियों पर अपने कड़े रुख में नरमी लाते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अब वह ज्यादा संख्या में वैध प्रवासियों के देश में आने के पक्ष में हैं क्योंकि उनसे देश को आर्थिक लाभ होता है.

ट्रंप ने अपने दूसरे स्टेट ऑफ द यूनियन संबोधन में भी कहा था कि वे चाहते हैं कि बड़ी संख्या में लोग उनके देश आएं लेकिन उन्हें कानूनी तौर पर आना होगा. हालांकि अभी तक उनकी नीतियों को देखकर ऐसा नहीं लगता कि वो इस दिशा में काम कर रहे हैं.

पत्रकारों ने जब उनसे पूछा कि क्या उनके इस बयान को उनके नीतियों में बदलाव के तौर पर देखा जाना चाहिए. तो इसके जवाब में ट्रंप में कहा कि ये बदलाव है.

लूइसियाना के न्यूजपेपर ‘द एडवोकेट’ के एक पत्रकार ने ट्वीट किया. इसमें ट्रंप के हवाले से कहा गया, ‘मैं चाहता हूं कि और लोग आए क्योंकि हमें फैक्ट्री और उद्योगों और कंपनियों को चलाने के लिए लोगों की जरूरत है.'

ट्रंप ने बुधवार के अपने भाषण में तर्क दिया था कि प्रवासी अमेरिका में मिडिल क्लास अमेरिकियों की नौकरी गैरकानूनी तरीके से ले हासिल कर लेते हैं. लेकिन हालिया इकोनॉमिक रिसर्च बताती हैं कि इमिग्रेशन की वजह से अमेरिका में जन्मे अमेरिकियों की नौकरियों पर बहुत लंबे असर तक के लिए फर्क नहीं पड़ता.

ट्रंप ने आतंकवाद पर बोलते हुए कहा कि आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष एक साझा लड़ाई है. उन्होंने कहा, ‘हमने साथ मिलकर लड़ाई लड़ी. अगर हम साथ मिलकर नहीं लड़ते तो कभी आज जैसी स्थिति नहीं हो सकती थी. हर किसी को अपनी भूमिका अदा करनी है और अपना योगदान देना है.’

ट्रंप ने आईएस पर कहा कि इस आतंकवादी संगठन का खात्मा कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि हो सकता है कि अगले हफ्ते वह किसी भी समय आईएस को उसके कब्जे वाले क्षेत्रों से 100 फीसदी तक खदेड़ने की औपचारिक घोषणा करेंगे. ट्रंप ने बुधवार को कहा कि अमेरिकी सेना, उसकी गठबंधन सहयोगी और सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज ने सीरिया और इराक में पहले आईएस के कब्जे में रहे पूरे क्षेत्र को लगभग आजाद करा लिया है.

उन्होंने बताया कि पिछले दो सालों में अमेरिका और उसके सहयोगियों ने 20,000 वर्ग मील से अधिक भूमि पर फिर से कब्जा जमाया है. उन्होंने कहा, ‘हमने युद्ध का एक मैदान जीता और उसके बाद जीतते चले गए और मोसुल और रक्का दोनों को फिर से अपने नियंत्रण में ले लिया. आईएस के सौ से ज्यादा बड़े नामों का खात्मा किया गया और हजारों आईएस लड़ाकों को खदेड़ दिया.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi