S M L

डोनाल्ड ट्रंप मेरी दुल्हन नहीं, मैं उनका दूल्हा नहीं: व्लादिमिर पुतिन

पुतिन ने ट्रंप की तारीफ करते हुए कहा था कि वह रूस के साथ रिश्ते सुधारना चाहते हैं

Updated On: Sep 05, 2017 09:59 PM IST

Bhasha

0
डोनाल्ड ट्रंप मेरी दुल्हन नहीं, मैं उनका दूल्हा नहीं: व्लादिमिर पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने मंगलावर को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना से परहेज करते हुए कहा कि ट्रंप उनकी दुल्हन नहीं हैं नहीं तो वह उनके दूल्हा नहीं हैं. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुतिन ने पत्रकारों के इस सवाल को भी खारिज कर दिया कि क्या वह ट्रंप के अनुभवहीन होने से निराश हैं.

रूसी न्यूज एजेंसियों ने पुतिन के हवाले से कहा कि ट्रंप मेरी दुल्हन नहीं हैं और मैं उनका दूल्हा नहीं हूं . यह पूछे जाने पर कि अगर ट्रंप पर महाभियोग चलाया जाता है तो रूस को कैसा महसूस होगा, इस पर पुतिन ने कहा कि अमेरिका की घरेलू राजनीति पर चर्चा करना रूस के लिए बेहद गलत होगा.

पिछले साल जब ट्रंप अमेरिकी राष्ट्रपति बने थे तो रूसी अधिकारियों ने काफी खुशी जाहिर की थी. पुतिन ने ट्रंप की तारीफ करते हुए कहा था कि वह रूस के साथ रिश्ते सुधारना चाहते हैं. हालांकि, रूस पर पहले से ज्यादा अमेरिकी प्रतिबंध लगने और रूसी वाणिज्यिक दूतावास बंद करने के अमेरिका के फैसले ने दोनों देशों की दूरियां बढ़ने की चिंताएं बढ़ा दी हैं.

आपको बता दें कि पुतिन ने चीन में आयोजित ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लिया. ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) ने कहा कि वे विश्व व्यापार संगठन के सन्निहित खुले और समावेशी बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं.

ब्रिक्स देशों ने कहा, 'हम खुली और समावेशी विश्व अर्थव्यवस्था के महत्व पर जोर देते हैं और चाहते हैं कि वैश्वीकरण के फायदे का हिस्सा सभी देशों और लोगों को मिले. हम एक नियम आधारित, पारदर्शी, भेदभाव रहित, खुली और समावेशी बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली के प्रति बचनबद्ध हैं, जैसा कि विश्व व्यापार संगठन में कहा गया है.'

ब्रिक्स समूह के देशों ने डब्लूटीओ के नियमों के कार्यान्वयन और पूर्ण प्रवर्तन के प्रति अपनी बचनबद्धता की पुष्टि की और कहा कि वे संगठन को आगे और मजबूत करने के लिए मिलकर काम करेंगे.

घोषणा-पत्र में कहा गया है, 'हम बाली और नैरोबी एमसीएम परिणामों के कार्यान्वयन में तेजी लाने और इस वर्ष अर्जेंटीना में होने जा रहे विश्व व्यापार संगठन के मंत्री स्तरीय सम्मेलन से सकारात्मक परिणाम निकलने का आग्रह करते हैं.' इस सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिग, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, ब्राजील के मिशेल टेमर और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति जैकब जुमा ने हिस्सा लिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi