S M L

अब H-4 परमिट रद्द करने की तैयारी में ट्रंप, भारतीयों पर पड़ेगा असर

ट्रंप प्रशासन एच -1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथियों को मिली कानूनी तौर पर काम करने की अनुमति को रद्द करने की तैयारी कर रहा है

Updated On: Apr 26, 2018 05:20 PM IST

Bhasha

0
अब H-4 परमिट रद्द करने की तैयारी में ट्रंप, भारतीयों पर पड़ेगा असर

शीर्ष भारतीय अमेरिकी डेमोक्रेट सांसदों ने ट्रंप प्रशासन की एच -1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथियों का कार्य परमिट या नौकरी करने की अनुमति को रद्द करने की योजना का विरोध किया है. एच-1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथी एच-4 वीजा के तहत नौकरी करते हैं. उल्लेखनीय है कि बराक ओबामा प्रशासन ने एच -1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथियों को कानूनी तौर पर अमेरिका में काम करने की अनुमति दी थी.

ट्रंप प्रशासन एच -1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथियों को मिली कानूनी तौर पर काम करने की अनुमति को रद्द करने की तैयारी कर रहा है. इस कदम से हजारों भारतीय प्रभावित होंगे. ओबामा प्रशासन के इस नियम को रद्द करने से 70,000 से अधिक एच -4 वीजाधारक प्रभावित होंगे.

डेमोक्रेट सांसद कर रहे हैं विरोध

भारतीय अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने यूएस इंडिया फ्रेंडशिप काउंसिल द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा कि एच -4 वीजा उन्हीं महिलाओं को मिलता है जो पात्र होती हैं. कई बार तो वे अपने पति से भी अधिक योग्यता रखती हैं, लेकिन वे काम नहीं कर पातीं. प्रतिनिधि सभा में चुनी गई पहली भारतीय अमेरिकी महिला सांसद जयपाल ने कहा कि मैं एच -4 वीजा को रद्द करने का विरोध करती हूं.

जयपाल ने बुधवार को आयोजित सम्मेलन में परिवार आधारित आव्रजन प्रणाली की भी वकालत की. इस सम्मेलन को कई अन्य डेमोक्रेट सांसदों जोए क्राउली, एमि बेरा और राजा कृष्णमूर्ति ने भी संबोधित किया. रिपब्लिकन सीनेटर थाम टिलिस ने कहा कि एच -1 बी से देश में ऐसी प्रतिभा आती है जिनकी जरूरत है. राष्ट्रपति ट्रंप को इसकी जानकारी है और वह चाहते हैं कि ऐसी आव्रजन प्रणाली होनी चाहिए जो प्रतिभाओं को आकर्षित कर सके और रोक सके.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi