S M L

अब क्वीन एलिजाबेथ का 'अपमान' कर बैठे ट्रंप, तोड़े कई प्रोटोकॉल

ट्रंप ने महारानी को इंतजार करवाया, उनसे मिलने पर झुककर शिष्टाचार नहीं निभाया, ऊपर से महारानी से आगे-आगे चलने लगे

FP Staff Updated On: Jul 14, 2018 01:36 PM IST

0
अब क्वीन एलिजाबेथ का 'अपमान' कर बैठे ट्रंप, तोड़े कई प्रोटोकॉल

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का ब्रिटेन दौरा विवादों से पटा पड़ा है. नाटो समिट में यूरोपीय देशों के प्रतिनिधियों का अपमान करना और ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे के लिए धमकी भरे लहजे का इस्तेमाल करने के लिए ट्रंप की आलोचना हो रही है. लेकिन अब ट्रंप ने ऐसा काम किया है कि ब्रिटेन के नागरिक गुस्से से भर गए हैं. ट्रंप पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि उन्होंने महारानी एलिजाबेथ का अपमान किया है. कहा जा रहा है कि ट्रंप ने महारानी को इंतजार करवाया, उनसे मिलने पर झुककर शिष्टाचार नहीं निभाया, ऊपर से महारानी से आगे-आगे चलने लगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विंडसर कैसल में डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को न सिर्फ क्वीन एलिजाबेथ-II को काफी इंतजार करवाया, बल्कि रेड कार्पेट पर भी प्रोटोकॉल तोड़ा, जिसे वहां महारानी के अपमान के तौर पर देखा जा रहा है.

क्वीन से आगे चल रहे हैं ट्रंप

विंडसर कैसल में रेड कॉर्पेट पर चलते डोनाल्ड ट्रंप का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें ट्रंप क्वीन एलिजाबेथ-II से आगे-आगे चल रहे हैं. यूजर्स ने इसे 'प्रोटोकॉल ब्रेक' यानी नवाचार के खिलाफ बताया है.

दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और क्वीन एलिजाबेथ-II को रेड कार्पेट पर चलते हुए हुए विंडसर कैसल तक आना था. प्रोटोकॉल के मुताबिक, क्वीन एलिजाबेथ-II को आगे-आगे चलना था और ट्रंप को उन्हें फॉलो करना था. लेकिन, सोशल मीडिया पर जो वीडियो शेयर किया जा रहा है, उसमें 72 साल के डोनाल्ड ट्रंप 92 साल की क्वीन को पीछे छोड़ते हुए आगे निकल जाते हैं.

करवाया इंतजार

'वैनिटी फेयर' की एक रिपोर्ट के मुताबिक, '92 साल की महारानी एलिजाबेथ-II को तपती धूप में इंजतार करना पड़ा. अमेरिकी राष्ट्रपति पांच बजे के बाद चाय के लिए पहुंचे. इस दौरान ट्रंप ने प्रोटोकॉल भी तोड़ा.'

क्वीन एलिजाबेथ को किसी शर्मिंदगी का सामना न करना पड़े, इसके लिए कई दिनों से ब्रिटिशर्स ट्रंप की उनके साथ इस मीटिंग का विरोध कर रहे थे. ब्रिटेन की संसद में भी नेताओं ने कहा था कि वो नहीं चाहते हैं कि ट्रंप महारानी से मिलें.

बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ट्रंप शुक्रवार को लंदन पहुंचे थे. दोनों ने गार्ड ऑफ ऑनर के बाद मिलिट्री परेड भी देखी. विंडसर कैसल में महारानी एलिजाबेथ-II के साथ चाय पी. इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ग्लासगो के लिए रवाना हो गए.

इस मुलाकात के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने क्वीन एलिजाबेथ-II के लिए कहा, 'कई सालों बाद उन्होंने (क्वीन एलिजाबेथ-II) ने अपने देश का प्रतिनिधित्व किया. इस दौरान उन्होंने कोई गलती नहीं की. वह एक अद्भुत महिला हैं.' ट्रंप ने ट्वीट किया, 'मेरी पत्नी मेलानिया क्वीन एलिजाबेथ-II की फैन हैं. मेलानिया ने उनकी खूबसूरती की बहुत तारीफ की है.'

बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप से पहले पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल 2011 में क्वीन एलिजाबेथ-II से मिल चुके हैं. तब ओबामा ने क्वीन को उनके माता-पिता की फोटोज गिफ्ट की थी. वो फोटोज तब की हैं, जब क्वीन के माता-पिता 1939 में अमेरिका आए थे. इस तोहफे के बदले में क्वीन ने ओबामा को ब्रिटेन की रॉयल फैमिली और अमेरिकी राष्ट्रपतियों के बीच लिखी गई चिट्ठियों का कलेक्शन दिया था.

रॉयल फैमिली के सदस्यों पर की हैं विवादास्पद टिप्पणियां

इसके पहले ट्रंप ने रॉयल फैमिली को लेकर विवादस्पद टिप्पणियां भी की हैं. 1997 में प्रिंसेस डायना की मौत के बाद ट्रंप ने कहा था कि वो चाहते तो बहुत आसानी से डायना के साथ सो सकते थे. 2012 में उन्होंने प्रिंस विलियम की पत्नी डचेस ऑफ कैम्ब्रिज केट मिडिलटन की एक न्यूड फोटोग्राफ पब्लिश हो जाने पर कहा था कि केट की न्यूड फोटो लेना कौन नहीं चाहेगा. इसमें बस उनकी गलती है.

ट्रंप डायना के पति प्रिंस चार्ल्स को भी पसंद नहीं करते हैं. दरअसल, प्रिंस चार्ल्स पर्यावरणविद् हैं, वहीं ट्रंप इंडस्ट्रियलिस्ट. दोनों के विचार क्लाइमेट चेंज पर बिल्कुल नहीं मिलते. एक सूत्र के हवाले से खबर मिली थी कि ट्रंप ने कहा था कि वो किसी से लेक्चर सुनना पसंद नहीं करते, चाहे वो रॉयल फैमिली का सदस्य ही कोई क्यों न हो. अच्छा होगा कि उनका और प्रिंस चार्ल्स का आमना-सामना न हो.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi