S M L

ट्रंप ने ट्रूडो से पूछा, क्या कनाडा ने वाइट हाउस को जला नहीं दिया था?

ट्रंप दरअसल 1812 युद्ध की बात कर रहे थे जबकि कनाडा 1867 में अस्तित्व में आया था

Updated On: Jun 07, 2018 07:42 PM IST

FP Staff

0
ट्रंप ने ट्रूडो से पूछा, क्या कनाडा ने वाइट हाउस को जला नहीं दिया था?

पिछले महीने जब कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से स्टील और एल्यूमीनियम पर बढ़ाए गए ट्रैफिक के मुद्दे पर बात करने के कॉल किया था तब ट्रंप ने ट्रूडो से पूछा था कि क्या आपने वाइट हाउस को नहीं जलाया था. दरअसल, ट्रंप 1812 के युद्ध का जिक्र कर रहे थे.

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस बात का खुलासा नहीं हो पाया कि क्या ट्रंप मजाक में ट्रूडो से इस बात को बोल रहे थे या यह कनाडा पर कोई निशाना था. हाल ही में ट्रंप प्रशासन ने कनाडा से आयात होने वाले स्टील और अल्यूमीनियम पर शुल्क बढ़ा दिया था. लेकिन जैसा कि कॉल के विवरण जारी होने के तुरंत बाद ऐतिहासिक विशेषज्ञों ने बताया, कनाडा ने व्हाइट हाउस को जला दिया नहीं। वास्तव में, कनाडा 1867 तक एक देश भी नहीं था।

ट्रंप द्वारा बोली गई बात मजाक थी या कुछ और यह तो नहीं पता लेकिन जैसा कि कॉल डिटेल्स आने के बाद इतिहासकारों ने बताया कि कनाडा 1812 में वाइट हाउस को कैसे जला सकता है जब वह खुद एक देश के रूप में 1867 में अस्तित्व में आया. 1812 का युद्ध जो अमेरिका और ब्रिटेन के बीच लड़ा गया था. इस युद्ध में ब्रिटेन के साथ कुछ और भी देश थे. इसी युद्ध में ब्रिटेन ने वाइट हाउस को जला दिया था.

ऐसा माना जाता है कि यॉर्क और ओन्टारियो पर अमेरिकी हमले का बदला लेने के लिए ब्रिटेन ने वॉशिंगटन पर अटैक किया था. यह क्षेत्र यानी कि ओन्टारियो और यॉर्क बाद में कनाडा का हिस्सा बना जो कि एक समय में ब्रिटिश उपनिवेश का हिस्सा हुआ करता था.

इससे पहले बुधवार को कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने उत्तरी अमेरिका मुक्त व्यापार समझौता (एनएएफटीए) को खत्म करने और द्विपक्षीय व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर करने के अमेरिकी प्रस्ताव को खारिज कर दिया था. हालांकि ट्रंप ने कहा है कि अगर एनएएफटीए पर साइन कर दिया जाता है तो वो प्रस्तावित 25 प्रतिशत ट्रैफिक को वापस ले लेंगे.

(एएनआई इनपुट्स के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi