S M L

सिंगापुर में दीपावली पर पटाखे जलाना पड़ा महंगा, भारतीय मूल के चार लोगों पर मामला दर्ज

सिंगापुर में 1972 से पटाखे जलाने पर प्रतिबंध है

Updated On: Nov 10, 2018 12:32 PM IST

Bhasha

0
सिंगापुर में दीपावली पर पटाखे जलाना पड़ा महंगा, भारतीय मूल के चार लोगों पर मामला दर्ज
Loading...

पटाखे जलाने के आरोप में माला दर्ज होने का सिलसिला केवल भारत तक ही सीमित नहीं है. बल्कि सिंगापुर में भी है. दीपावली के मौके पर पटाखे जलाने को लेकर सिंगापुर की एक अदालत ने भारतीय मूल के चार लोगों को आरोपित किया है. सिंगापुर में 1972 से पटाखे जलाने पर प्रतिबंध है.
बीते मंगलवार को भारतीय मूल के लोगों ने मिलकर यहां दीपावली मनाई. इस दौरान यीशुन,बुकिट बटोक वेस्ट और जू सेंग रोड में तीन अलग-अलग घटनाओं में अवैध रूप से पटाखे जलाने में भारतीय मूल के चार लोग कथित तौर पर संलिप्त पाए गए.

 

‘द स्ट्रेट्स टाइम्स’ ने शनिवार को अपनी एक खबर में बताया कि ए. हरिप्रशांत (18), एल्विस जेवियर फर्नांडीज (25), जीवन अर्जुन (28) और अलगप्पन सिंगाराम (54) पर खतरनाक पटाखे जलाने के आरोप हैं. बुधवार को भी भारतीय मूल के दो अन्य लोगों पर लिटिल इंडिया इलाके में अवैध रूप से पटाखे सबके सामने लाने और जलाने के आरोप लगाए गए थे.

पटाखों को रखना, बेचना, अन्य स्थान पर भेजना, उसका वितरण करना कानूनन अपराध है

इस मामले में आरोप है कि टी. सेल्वाराजू (29) ने पटाखे जलाए जबकि शिव कुमार सुब्रमण्यम ने उसे ऐसा करने के लिए उकसाया. जीवन पर आरोप है कि उसने मंगलवार को यीशुन स्ट्रीट पर सुबह 3:30 बजे ब्लॉक 504-बी के सामने खुले मैदान में पटाखे जलाए.

पुलिस ने बताया कि तेज आवाज सुनाई देने के बात उन्हें अलर्ट किया गया और उन्हें उस स्थान से विस्फोटक से भरे सिलिंडर मिले. उसके अगले दिन जीवन को गिरफ्तार कर लिया गया. हरिप्रसाद और सिंगाराम पर बुकिट बटोक वेस्ट अवेन्यू-6 पर ब्लॉक 194 बी के बगल में खुले स्थान पर पटाखे जलाने के आरोप हैं.

अदालती दस्तावेजों के अनुसार फर्नांडीज पर ब्लॉक-18 जू सेंग रोड पर पटाखे जलाने का आरोप है. उसे गुरुवार को गिरफ्तार किया गया. हालांकि चारों आरोपियों को शुक्रवार को जमानत दी गई.

पुलिस ने बताया, ‘जनता को याद दिलाया जाता है कि खतरनाक पटाखों को रखना, बेचना, अन्य स्थान पर भेजना, उसका वितरण करना आदि अपराध की श्रेणी में आता है.'

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi