S M L

चीनी मीडिया ने भारत का माना लोहा, कहा- पड़ोसी से सीखें 'संस्कृति निर्यात'

सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने रिपोर्ट छापी है जिसमें चीन में योग और बॉलीवुड के तेजी से पांव जमाने की बात कही गई है

FP Staff Updated On: Mar 12, 2018 05:21 PM IST

0
चीनी मीडिया ने भारत का माना लोहा, कहा- पड़ोसी से सीखें 'संस्कृति निर्यात'

चीन की मीडिया ने 'संस्कृति निर्यात' के क्षेत्र में भारत के प्रयासों की सराहना की है. ग्लोबल टाइम्स ने हाल में एक रिपोर्ट में कहा कि भारत ने बड़ी ही कुशलता से योग को विदेशों में लोकप्रिय बनाया है. साथ ही हिंदी फिल्म उद्योग जिसे बॉलीवुड के नाम से भी जाना जाता है उसके जरिए चीन में अपनी नरम पैठ बनाई है.

दिलचस्प बात यह है कि अखबार ने यह रिपोर्ट अपनी उस खबर के बाद प्रकाशित की है जिसमें पिछले दिनों उसने भारत को सैन्य शक्ति और अर्थव्यवस्था के मामले में चीन से पीछे बताया था.

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट में सेंटर फॉर एशिया-पैसिफिक ओवरसीज के डायरेक्टर जाओ गैनचेंग ने कहा कि 'चीन को भारत से सांस्कृतिक ताकत (सॉफ्ट पावर) को कारगर बनाना सीखना चाहिए, जो हमारी सरकार के कुछ सहायता कार्यक्रमों से अधिक कारगर हैं.'

रिपोर्ट के अनुसार, भारत जिस तरह अपनी सांस्कृतिक शक्ति को बढ़ावा देता है  'वो अधिक स्वीकार्य' है, क्योंकि भारत सरकार योग को एक 'गैर-धार्मिक गतिविधि' के रूप में बढ़ावा देती है. साथ ही बॉलीवुड का फोकस आम तौर पर सामाजिक मुद्दे पर होता है.

बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक में योग केंद्र का बोलबाला

योग की लोकप्रियता इस मायने में परखी जा सकती है कि पिछले दो वर्षों में चीन के शहरों में जगह-जगह योग केंद्र खुल गए हैं. देश के पहले पेशेवर योग केंद्र के संस्थापक लीन शियाओहाई के मुताबिक न सिर्फ बड़े शहरों बल्कि छोटे शहरों में भी योग केंद्र कुकुरमुत्ते की भांति खुल गए हैं.

चीन में इंटरनेट सर्विस देने वाली कंपनी sohu.com के अनुसार, इसकी (योग) देश के कई शहरों के स्कूलों में भी शिक्षा दी जा रही है. उदाहरण के लिए, चीन के पूर्वोत्तर प्रांत शेनयांग, में एक प्राइमरी स्कूल ने अपने मार्निंग प्रेयर (सुबह की प्रार्थना) में योग को नियमित रूप से शामिल कर लिया है. वर्ष 2005 में दक्षिण-पश्चिम चीन के युन्नान प्रांत में एक विश्वविद्यालय ने भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के सहयोग से देश की पहली विशेष योग विद्यालय की स्थापना की थी.

एक और सांस्कृतिक निर्यात जो कि लोकप्रियता में योग को टक्कर दे सकता है वो है बॉलीवुड. वर्तमान में बीजिंग के सिनेमाघरों में सलमान खान की फिल्म बजरंगी भाईजान हाउसफुल चल रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi