Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

भ्रष्टाचार मामले में नवाज शरीफ पर 2 अक्टूबर को दायर होगी चार्जशीट

अदालत ने नवाज के परिवार वालों मरियम, हुसैन, हसन और सफदर के खिलाफ नए जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किए

Bhasha Updated On: Sep 26, 2017 03:01 PM IST

0
भ्रष्टाचार मामले में नवाज शरीफ पर 2 अक्टूबर को दायर होगी चार्जशीट

पनामा पेपर घोटाले में नेशनल एकाउंटेबिलिटी ब्यूरो द्वारा अपने खिलाफ दायर भ्रष्टाचार के मुकदमों का सामना करने के लिए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सोमवार को एकाउंटेबिलिटी कोर्ट के आगे पेश हुए.

इस मामले में अदालत ने 2 अक्तूबर को शरीफ पर चार्ज लगाने का फैसला किया है. अदालत ने उनके बच्चों और दामाद के खिलाफ भी नया गिरफ्तारी वारंट जारी किया है.

लंदन में इलाज करा रही अपनी बीमार पत्नी के पास से सोमवार को ही पाकिस्तान लौटे शरीफ सुबह अदालत पहुंचे.

सुनवाई के दौरान 67 वर्षीय शरीफ ने जज मुहम्मद बशीर को बताया कि उनकी पत्नी की तबियत ठीक नहीं थी और उन्हें उनकी देखभाल करने की जरूरत है. इसके बाद उन्हें अदालत से जाने की इजाजत दे दी गई.

इसके बाद अदालत को 10 मिनट के लिए स्थगित किया गया. बाद में सामान्य कार्यवाही फिर शुरू की गई.

यह पेशी महज एक औपचारिकता थी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आरोपी मुकदमे का सामना करने के लिए तैयार है. शरीफ करीब 10 मिनट तक अदालत में रहे.

शरीफ के साथ उनके वकील ख्वाजा हारिस भी मौजूद थे. मामले में सुनवाई की अगली तारीख अभी तय नहीं की गई है.

शरीफ परिवार के खिलाफ इस्लामाबाद में जवाबदेही अदालत में भ्रष्टाचार के मामलों में सुनवाई चल रही है. अदालत ने पिछले हफ्ते शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) सफदर को 26 सितंबर को उसके आगे पेश होने के लिए कहा था.

19 को पेश नहीं हुआ था परिवार

शरीफ परिवार मामले में सुनवाई की अवहेलना करते हुए 19 सितंबर को अदालत में सुनवाई के लिए पेश नहीं हुआ था. मामले में सुनवाई जब फिर से शुरू हुई तब जज ने मरियम, हुसैन, हसन और शरीफ के दामाद सफदर के बारे में पूछा जिन्हें सोमवार को पेश होने का आदेश दिया गया था.

शरीफ के वकील हारिस ने कहा कि वे अपनी बीमार मां की देखभाल के लिए लंदन में हैं लेकिन अदालत ने उनकी दलील खारिज कर दी और 2 अक्तूबर को उन्हें अदालत के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया.

अदालत ने मरियम, हुसैन, हसन और सफदर के खिलाफ नए जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किए.

हारिस ने अदालत से कहा कि शरीफ को लंदन में अपनी बीमार पत्नी की देखभाल करने की जरूरत है ऐसे में उन्हें अदालत में व्यक्तिगत पेशी से छूट की अनुमति दी जानी चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi