S M L

ब्रिटेन: नाम कमाने के 5 महीने के भीतर क्यों बदनाम हुआ सिख सैनिक

लाल पर आखिरी फैसला उनके कमांडिंग ऑफिसर लेंगे लेकिन अगर उन्हें क्लास A ड्रग्स लेने का दोषी पाया गया तो उन्हें बर्खास्त किया जा सकता है

Updated On: Sep 25, 2018 04:02 PM IST

FP Staff

0
ब्रिटेन: नाम कमाने के 5 महीने के भीतर क्यों बदनाम हुआ सिख सैनिक

ब्रिटेन में 22 साल का एक सिख सैनिक कुछ दिनों पहले सुर्खियों में था. वजह थी कि उस सिख सैनिक ने इतिहास रचा था. ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ II के जन्मदिन के मौके पर होने वाले सालाना परेड ‘ट्रूपिंग द कलर’में पहली बार एक पगड़ी पहने शख्स था. चरणप्रीत सिंह लाल जून में अच्छी खबरों की वजह से खबरों में आए थे लेकिन इस बार वजह बुरी है.

द सन की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले हफ्ते अचानक हुए ड्रग्स टेस्ट में लाल की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई. अगर यह साफ हो जाता है कि लाल ने कोकीन ली है तो उन्हें पद से हटाया जा सकता है.

सन की रिपोर्ट के मुताबिक, एक सूत्र ने बताया, 'गार्ड्समैन बैरक में खुलेआम इस बारे में बात कर रहा था. पैलेस में अपनी ड्यूटी करने के बाद ऐसा करना बेहद शर्मनाक है.' लाल पर आखिरी फैसला उनके कमांडिंग ऑफिसर लेंगे लेकिन अगर उन्हें क्लास A ड्रग्स लेने का दोषी पाया गया तो उन्हें बर्खास्त किया जा सकता है.

रिपोर्ट के मुताबिक, यह खबर आने के बाद सब हैरान हैं. लाल उन तीन सैनिकों में शामिल हैं जो विंडसर के विक्टोरिया बैरक में परीक्षण के दौरान असफल रहे. लाल का जन्म पंजाब में हुआ था. उनके माता-पिता उन्हें बचपन में ही लेकर ब्रिटेन चले गए थे. बाद में वह जनवरी 2016 में ब्रिटिश सेना में शामिल हुए थे.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi