S M L

केरल बाढ़: क्या ट्विटर के जरिए दुबई के सुल्तान भारत सरकार को ताना मार रहे हैं!

दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने रविवार को अरबी में दो ट्वीट पोस्ट किए जिनमें उन्होंने बताया है कि आदर्श शासक कैसा होना चाहिए

Updated On: Aug 27, 2018 09:50 PM IST

FP Staff

0
केरल बाढ़: क्या ट्विटर के जरिए दुबई के सुल्तान भारत सरकार को ताना मार रहे हैं!

केंद्र सरकार द्वारा बाढ़ प्रभावित केरल के लिए यूएई के 700 करोड़ रुपए की मदद की पेशकश को अस्वीकार करने की कंट्रोवर्सी के बीच, रविवार रात दुबई के शासक ने ट्वीट किए. जो कि सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गए है. कई लोग इसे अप्रत्यक्ष तौर पर सरकार पर हमला बता रहे हैं.

दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने रविवार को अरबी में दो ट्वीट पोस्ट किए, जिनमें उन्होंने बताया है कि आदर्श शासक कैसा होना चाहिए?

कैसा होता है आदर्श शासक

अल मकतूम ने ट्विटर पर लिखा, 'जीवन ने मुझे सिखाया कि शासक दो प्रकार के होते हैं. पहले प्रकार के वो जो अच्छाई की कुंजी होते हैं, वे लोगों की सेवा करना पसंद करते हैं. उन्हें मानव जीवन को सुविधाजनक बनाने में खुशी मिलती है और उनका मूल्य उनके द्वारा प्रदान किए जाने वाले कार्यों में होता है. उनकी वास्तिवक उपलब्धि लोगों के जीवन को बदलना और उनके लिए बंद दरवाजों को खोलना है. वे हमेशा समाधान प्रदान करते हैं और हमेशा लोगों के लाभ के बारे में सोचते हैं.'

दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा, 'दूसरे प्रकार के शासक वे हैं जो अच्छी चीजों को रोक देते हैं और लोगों के जीवन को मुश्किल बना देते हैं. उन्हें लोगों को अपने दरवाजे पर देखकर खुशी मिलती है.' उन्होंने यह कहकर अपने ट्वीट को समाप्त किया कि सरकार तभी सफल होगी, जब पहले प्रकार के शासकों की संख्या दूसरे प्रकार के शासकों से अधिक हो.

कई सारे ट्विटर यूजर्स का मानना है कि दुबई के शासक अपने दूसरे ट्वीट के जरिए बीजेपी सरकार को निशाना बना रहे हैं.

पिछले सप्ताह की थी मदद की पेशकश

बता दें कि केरल ने पिछले हफ्ते साफ किया था कि यूएई सरकार ने केरल में मदद के लिए स्पष्ट रकम घोषित नहीं की है. जैसा कि केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने कहा था, कि यूएई सरकार ने केरल को मदद के तौर पर 700 करोड़ रुपए का प्रस्ताव दिया है.

भारत में संयुक्त अरब अमीरात के राजदूत अल बन्ना के इस हफ्ते बाढ़ प्रभावित केरल जाने की उम्मीद है. वह राहत और पुनर्वास कार्यों में सहायता करने वाली विभिन्न संगठनों और एनजीओ के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे.

(साभार न्यूज18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi