S M L

ब्रिटिश पुलिस ने घर में घुसकर सिख फैमिली से की बदसलूकी

ब्रिटिश पुलिस ने गोली चलने जैसी आवाज आने की शिकायत मिलने पर कार्रवाई की थी

Updated On: Aug 27, 2017 10:13 PM IST

Bhasha

0
ब्रिटिश पुलिस ने घर में घुसकर सिख फैमिली से की बदसलूकी

ब्रिटेन की पुलिस ने दक्षिणी इंग्लैंड में फायरिंग की आवाज की शिकायत पर एक सिख शख्स और उसके बेटी के साथ धक्का-मुक्की और बदसलूकी की.

सुक्खी रयात ने हेर्टफोर्डशायर के हिचिन में अपने कैंपस में अपनी गाड़ी पार्क कर रहे थो. तभी 10-12 हथियारों से लैस पुलिसवाले स्निफर डॉग्स कुत्तों के साथ उनके बगीचे में घुस आए और उन्हें दीवार की तरफ धकेल कर हथकड़ी पहना दी.

रयात ने एक ऑनलाइन अखबार को बताया 'मैं अपनी कार में कुछ देर के लिए बैठा रहा क्योंकि मैं उस कंपनी को फोन लगा रहा था जिससे मैंने गाड़ी लीज पर ली थी. मैं जैसे ही बाहर निकला, अचानक पुलिस राइफल और न जाने क्या क्या लिए आ गई. उनके साथ कुत्ते भी थे.' रयात ने बताया कि उनके 17 साल के बेटे हरकीत को भी दीवार पर धक्का देकर हथकड़ी लगा दी गई.

ब्रिटेन में 1979 से रह रहे रयात ने कहा 'मैंने दरवाजा खोला और अधिकारी ने बंदूक मेरी तरफ करते हुए मुझसे हाथ ऊपर करने के लिए कहा. उसके बाद उसने मुझे पकड़ दीवार पर धक्का दे दिया. वह मुझे मुख्य सड़क पर ले गए और मेरी तलाशी ली.' पुलिस का कहना है कि किसी ने रयात की गाड़ी से गोली चलने की आवाज सुनकर शिकायत की जिसके बाद यह कार्रवाई की.

बाद में पुलिस को पता चला कि फायरिंग जैसी आवाज रयात की गाड़ी के टायर के फटने की थी. पुलिस ने कहा कि शिकायत करने वाले ने तीन बार अपने आरोप बदले.

रयात की 20 साल की बेटी मनमीत कौर ने कहा कि उन्होंने पुलिसवालों से आग्रह किया कि वह उस कमरे में जूते खोलकर जाएं जहां सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ रखे थे लेकिन उन्होंने उसकी बात को अनदेखा कर दिया. मनमीत ने पुलिस के इस रवैये की कड़ी आलोचना की.

हेर्टफोर्डशायर की एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि अधिकारियों का फर्ज है कि वह शिकायत मिलने पर जांच कर कार्रवाई करें. उन्होंने तलाशी के दौरान रयात फैमिली से हुई बदसलूकियों के लिए माफी मांगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi