S M L

'ब्रेग्जिट के जनमत संग्रह को पलटने की हो रही कोशिश'

फराज ने कहा कि संसद में उनके पास बहुमत है, और जब तक कि हम खुद को संगठित नहीं करते, हम ब्रेग्जिट की ऐतिहासिक जीत को खो सकते हैं

Updated On: Jan 14, 2018 05:15 PM IST

FP Staff

0
'ब्रेग्जिट के जनमत संग्रह को पलटने की हो रही कोशिश'

ब्रेग्जिट के प्रचारक नाइजल फराज ने चिंता जताई है कि यूरोपियन यूनियन को छोड़ने के लिए किया गया ब्रिटेन का जनमत संग्रह एक शक्तिशाली समूह के समर्थकों द्वारा पलटा जा सकता है.

ब्रिटेन के 'ऑब्जर्वर' अखबार को दिए इंटरव्यू में फराज ने कहा कि एक संगठित और फंडेड ग्रुप यूरोपियन यूनियन में रहने के लिए उन लोगों से अलग होकर एक कैंपेन चला रहा है जो यूरोपियन संघ से बाहर रहना चाहते हैं.

फराज ने कहा कि यह टीम ही सब कुछ चला रही है. संसद में उनके पास बहुमत है और जब तक कि हम खुद को संगठित नहीं करते, हम ब्रेग्जिट की ऐतिहासिक जीत को खो सकते हैं.

पिछले सप्ताह, फराज ने कहा था कि ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन की सदस्यता से निकलने के मुद्दे को सलटाने के लिए दोबारा वोट कराने के लिए मुद्दे को गरमाया जा रहा है. उन्होंने सरकार से ब्रेग्जिट के लिए दबाव बनाने को कहा था.

2016 में, ब्रिटेन की जनता ने यूरोपियन यूनियन की अपनी सदस्यता समाप्त करने के पक्ष में 52% वोट किया था. प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने दूसरे जनमत संग्रह से इनकार कर दिया है, उन्होंने कहा कि उनकी सरकार यूरोपीय संघ के साथ एक सुखद तलाक की मांग कर रही है जो अर्थव्यवस्था की रक्षा करेगा और ब्रिटेन को अन्य देशों के साथ व्यापार सौदों को सुरक्षित करने में सक्षम करेगा.

लेकिन कुछ ब्रेग्जिट प्रचारकों को लग रहा है कि प्रधानमंत्री का यह दृष्टिकोण उनके कई मांगों पर पानी फेर दिया है. इसमें यूरोपियन कोर्ट ऑफ जस्टिस के उस अधिकार क्षेत्र को छोड़ना भी है जिसमें अप्रवास को कम करने और संप्रभुता को पुनः प्राप्त करने की क्षमता शामिल है.

कई यूरोपियन यूनियन समर्थक प्रचारकों का कहना है कि दूसरे जनमत संग्रह कराने की आवश्यकता बढ़ गई है क्योंकि जनता की राय ब्रेग्जिट के खिलाफ हो रही है. ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि यूरोपियन यूनियन को छोड़ने के लिए हो रही वार्ता में कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi