S M L

ब्रेक्सिट एक ऐतिहासिक भूल है,10-15 साल बाद होगा इसका एहसास: फ्रांस वित्त मंत्री

वित्त मंत्री ब्रूनो ली मैरे ने आने वाले 10-15 सालों में जब ब्रिटेन को लोग यह समझ जाएंगे कि अमेरिका, चाइना जैसे देश के साथ कॉम्पिटीशन करने में हम पिछड़ रहे हैं, तब उन्हें यह बात समझ आएगी

Updated On: Nov 15, 2018 07:53 PM IST

FP Staff

0
ब्रेक्सिट एक ऐतिहासिक भूल है,10-15 साल बाद होगा इसका एहसास: फ्रांस वित्त मंत्री

फ्रांस के वित्त मंत्री ने ब्रेक्सिट को ऐतिहासिक भूल बताया है. पेरिस के वीमेन फोरम में गुरुवार को सीएनबीसी की संवाददाता कैरेन सो से बात करते हुए ब्रूनो ली मैरे ने कहा, 'मेरे हिसाब से कई ब्रिटिश नेता झूठे साबित हुए हैं. उन्होंने ब्रिटेन के लोगों से झूठ कहा कि यूरोपीयन यूनियन से निकलना आसान है और इसका कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं होगा. लेकिन आज सच आपके सामने है. आज हम देख पा रहे हैं कि यूरोपीयन यूनियन से निकलना कितना मुश्किल है. दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण इकोनॉमिक मार्केट में से एक ईयू से निकलना कितनी बड़ी भूल थी.'

हालांकी मैरे ने किसी भी नेता का नाम नहीं लिया है, लेकिन कई दूसरे अधिकारियों ने विदेश सेक्रेटरी बॉरिस जॉनसन, पर्यावरण के वर्तमान राज्य सेक्रेटरी और खाद्द एवं ग्रामीण मामले के नेता माकइल गोव के ऊपर आरोप लगाए हैं. दोनों ने ब्रेक्सिट जनमत संग्रह के दौरान 2016 में वोट लीव अभियान का नेतृत्व किया था.

मैरे ने यूरोपीयन यूनियन में रहने को सही और ब्रेक्जिट को गलत ठहराते हुए कहा, 'आप जब लोगों से झूठ बोलते हैं, तो हमेशा एक मौका आता है जब आपको उसका सामना करना पड़ता है. आपको अपने बचाव में सफाई देनी पड़ती है कि नहीं, वह सही कदम नहीं था. मुझे आशा है कि आने वाले 15 सालों में ब्रिटेन के लोग इस बात को समझेंगे कि उनका फायदा यूरोपीयन यूनियन में रहने में ही था. मेरे निजी विचार में, मुझे वापस दूसरा रेफरेंडम लाने की कोई संभावना नहीं दिखती. आने वाले 10-15 सालों में जब ब्रिटेन को लोग यह समझ जाएंगे कि अमेरिका, चाइना जैसे देश के साथ कॉम्पिटीशन करने में हम पिछड़ रहे हैं, तब उन्हें यह बात समझ आएगी.'

एक दिन में दो इस्तीफे

वहीं यूके प्रधानमंत्री टेरेसा मे को गुरुवार को करारा झटका का सामना करना पड़ा. यूरोपीय संघ से अलग होने के लिए प्रास्तावित समझौते को लेकर डोमिनिक राब ने ब्रेक्जिट मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है. राब ने समझौते के मसौदे का समर्थन करने से मना करते हुए कहा,'घोषणापत्र में हमने देश से जो वादे किए थे, उसके बाद में प्रस्तावित सौदे की शर्तों पर समझौता नहीं कर सकते हैं. आप ऐसे ब्रेक्जिट मंत्री के हकदार हैं जो आपके समझौते को दृढता के साथ आगे बढ़ा सके. मुझे पक्का इस्तीफा देना चाहिए.'

बता दें कि टेरेसा के कैबिनेट से गुरुवार को यह दूसरा इस्तीफा है. इससे पहले उत्तरी आयरलैंड के मंत्री शैलेश वारा ने भी समझौते को लेकर पद से इस्तीफा दे दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi