S M L

4 नवंबर 2008: जब एक अश्वेत ने बदल दिया अमेरिका का इतिहास

आज के दिन 9 साल पहले बराक ओबामा ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली मुल्क अमेरिका के राष्ट्रपति का पद संभाला था.

Updated On: Nov 04, 2017 03:39 PM IST

FP Staff

0
4 नवंबर 2008: जब एक अश्वेत ने बदल दिया अमेरिका का इतिहास

श्वेत और अश्वेतों के बीच की गहरी खाई को पाटते हुए आज के दिन 9 साल पहले बराक ओबामा ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली मुल्क अमेरिका के राष्ट्रपति का पद संभाला था.

ओबामा पहले अफ्रीकी-अमेरिकी थे, जो राष्ट्रपति पद तक पहुंचे. उन्होंने एरिज़ोना के सीनेटर जॉन मैक्केन को मात दी थी. 47 वर्षीय ओबामा को चुनावों में 365 वोट हासिल हुए, जो जॉन मैक्केन (173) की तुलना में 192 अधिक थे. डेमोक्रेट बराक ओबामा को चुनावों में 53% पॉपुलर वोट भी हासिल हुए थे.

obama8

पिता केन्याई और मां अमेरिकी

दुनिया का सबसे ताकतवर पद संभाल चुके ओबामा का जन्म साल 1961 में हवाई में हुआ था. उनकी मां कान्सास की एक श्वेत महिला थीं और पिता केन्याई मूल के थे.

6 से 10 की उम्र में उन्होंने लोकल इंडोनेशियन-लैंग्वेज स्कूल में पढ़ाई की. साल 1988 में उन्होंने हार्वड लॉ स्कूल में दाखिला लिया. ग्रेजुएशन के बाद ओबामा ने बतौर प्रोफेसर और सिविल राइट्स अटॉर्नी यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो लॉ स्कूल में संवैधानिक कानून पढ़ाया. वो साल 1992 से 2004 तक अध्यापन के क्षेत्र में रहे.

obama18

राजनीति की शुरुआत

1996 से ओबामा के राजनीतिक करियर की शुरुआत हुई. जब वो इलिनोइस के स्टेट सीनेट पद के लिए चुने गए. 1998 और 2000 में वो दोबारा स्टेट सीनेट बने. 2004 में उन्होंने राष्ट्रीय राजनीति की ओर रुख किया. उन्होंने इसी साल अमेरिकी सीनेट पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की. जुलाई 2004 में डेमोक्रेटिक नेशनल कंवेशन की-नोट एड्रेस में उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली.

obama

10 फरवरी 2007 में स्प्रिंगफील्ड इलिनोइस में उन्हें आधिकारिक तौर पर डेमोक्रेट्स की ओर से राष्ट्रपति पद का दावेदार घोषित किया गया. जहां से उनकी राष्ट्रपति तक पहुंचने की नींव रखी गई.

प्रचार के दौरान कहा 'यस वी कैन'

राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव प्रचार में उनकी टीम ने जमीनी स्तर पर काम किया. अपने व्यक्तित्व, जिंदगी की कहानी और प्रेरणादायक विचारों की बदौलत उन्होंने अमेरिकियों के दिल में अपनी जगह बनाई. उन्होंने प्रचार के दौरान युवा वर्ग पर खास ध्यान दिया जो श्वेत और अश्वेत दोनों थे. वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक 30 लाख लोगों ने उन्हें 65 लाख डॉलर ऑनलाइन डोनेशन दी.

obama17

65 लाख में से 60 लाख लोग ऐसे थे जिन्होंने उन्हें 100 डॉलर या उससे कम डोनेशन दी थी. अपने प्रचार के दौरान उन्होंने लोगों से वादा किया कि वो अमेरिका को इराक युद्ध से दूर करेंगे. साथ ही जनता के लिए हेल्थ केयर पर ज़्यादा काम करेंगे. इसके अलावा अमेरिकी अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए उन्होंने बड़े कदम उठाने का आम जनता से वादा किया.

6 करोड़ से ज़्यादा जनता का मिला समर्थन

4 नवंबर 2008 के दिन चुनाव में 6.94 करोड़ से ज़्यादा अमेरिकी जनता ने ओबामा के समर्थन में वोट दिया. जबकि उनके विरोधी जॉन मैक्केन को 5.99 करोड़ जनता के वोट मिले. 1960 में जॉन कैनेडी के बाद ओबामा ऐसे वर्तमान अमेरिकी सीनेटर थे, जो राष्ट्रपति पद के लिए चुने गए.

obama and people

चुनावों में ओबामा को रिपब्लिकन के गढ़ माने जाने वाले वर्जिनिया और इंडियाना में जीत हासिल हुई. इसके अलावा फ्लोरिडा और ओहियो जैसी खास जगहों पर ओबामा को जीत मिली, जहां हाल ही में रिपब्लिकन पार्टी जीती थी. अमेरिकी के सिविल वार और गुलामी खत्म होने के 143 साल बाद ये ऐसी पहली ऐतिहासिक जीत थी. ओबामा ने जीतने के बाद शिकागो के ग्रैट पार्क में अपार भीड़ के सामने ऐतिहासिक भाषण दिया था.

(न्यूज18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi