विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

नवाज के दादा की कब्र से कुछ युवकों ने हटाई चादर

इन्हीं युवकों ने पंजाब में अजनाला के नानक सिंह की रिहाई के लिए मियां मोहम्मद बख्श की कब्र पर चादर चढ़ाई थी

FP Staff Updated On: Jul 29, 2017 09:54 PM IST

0
नवाज के दादा की कब्र से कुछ युवकों ने हटाई चादर

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पंजाब के तरनतारन जिले में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दादा मियां मोहम्मद बख्श की कब्र से कुछ युवकों ने चादर हटा दी है. यह सभी युवक पाक के रवैये को लेकर गुस्से में थे.

बख्श की कब्र तरनतारन जिले के जाती उमरा गांव में है. जाती उमरा शरीफ का पैतृक गांव है.

पिछले साल 10 जुलाई को इन्हीं युवकों ने पंजाब में अजनाला के नानक सिंह की रिहाई के लिए मियां मोहम्मद बख्श की कब्र पर चादर चढ़ाई थी.

नानक सिंह इस समय पाकिस्तान की जेल में बंद है. पहले नानक सिंह की रिहाई के प्रति पाक का रुख सकारात्मक था. बाद में पाक ने झूठ बोल दिया कि नानक सिंह पाकिस्तान में है ही नहीं. इससे कब्र पर चादर चढ़ाने वाले युवकों में पाक के रवैये को लेकर गुस्सा था.

इंडिपेंडेंट स्टूडेंट फेडरेशन (आईएसएफ)के प्रधान केशव कोहली का कहना है कि वे पाकिस्तान की भारत विरोधी गतिविधियों से नाराज हैं. इस संगठन से जुड़े युवकों का कहना कि वे हमारे सैनिकों का सिर काट कर ले जा रहे हैं, हम उन लोगों की कब्रों की रखवाली क्यों करें?

Ancestors-of-PM-Nawaz-shareef-Insulted-in-India-by-protesters

इन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव को भी रिहा नहीं कर रहा है. अपने यहां रहे आतंकवादियों का भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने की कोशिश रहा है और अब चीन के साथ मिलकर पाक हमारे विरुद्ध साजिश रचने लगा है.

पाकिस्तान ने नाराजगी जाहिर की

इसी बीच भारत में नवाज शरीफ के दादा की कब्र से चादर हटाए जाने को लेकर पाकिस्तान ने नाराजगी जाहिर की है. घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए पाकिस्तान ने कहा है कि कब्र से चादर हटाए जाने का असर पाक जेल में कैद भारतीय नागरिक नानक सिंह की रिहाई पर पड़ सकता है.

नानक सिंह की जमानत के लिए केस लड़ रहे पाकिस्तानी वकील ने कहा है कि नवाज शरीफ के दादा की कब्र से चादर हटाए जाने से वे काफी आहत हुए हैं. इस घटना के बाद उनके लिए नानक सिंह का केस लड़ना मुश्किल हो जाएगा.

शिव सेना बाल ठाकरे और एंटी क्राइम एंड एनिमल प्रोटेक्शन एसोसिएशन उनके समर्थन में उतर आए हैं. उनका कहना है कि वे स्टूडेंट फेडरेशन की सुरक्षा करेंगे. साथ ही उन्होंने प्रशासन से भी सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है.

गौरतलब है कि बंटवारे के बाद शरीफ का पूरा परिवार पाकिस्तान चला गया था. नवाज के दादा मियां मोहम्मद बख्श का इंतकाल उमरा गांव में हुआ था. 2013 में नवाज के भाई शहबाज शरीफ ने इस गांव का दौरा किया था. पंजाब के तात्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने इस कब्र की मरम्मत कराई थी.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi