S M L

रिपोर्ट में खुलासा: एच1-बी वीजा में कटौती से अमेरिका का नुकसान

रिपोर्ट के मुताबिक इससे अमेरिका को भारत जैसे देशों से प्रतिभाशाली लोगों को लाने में मुश्किल का सामना करना पड़ेगा

Updated On: Aug 08, 2017 05:05 PM IST

Bhasha

0
रिपोर्ट में खुलासा: एच1-बी वीजा में कटौती से अमेरिका का नुकसान

अमेरिका के एक शीर्ष रिसर्च संस्थान सेंटर फॉर ग्लोबल डेवलपमेंट ने अपनी रिपोर्ट में आईटी सेक्टर में अमेरिका के दबदबे को नुकसान पहुंचने की आशंका जाहिर की है.

रिपोर्ट के मुताबिक एच1-बी वीजा के नियमों में कड़ाई किए जाने से अमेरिका के आईटी सेक्टर को भारत जैसे देशों से प्रतिभाशाली लोगों को लाने में मुश्किल का सामना करना पड़ेगा. इसके कारण इस सेक्टर में अमेरिका के दबदबे को नुकसान पहुंच सकता है.

सीजीडी ने इस रिपोर्ट में कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सरकार एच1-बी वीजा की समीक्षा कर रही है. इसका अधिकतर उपयोग भारतीय आईटी पेशेवर करते हैं और यह अमेरिका और भारत दोनों के लिए ही फायदेमंद है.

'एच1-बी वीजा भारत-अमेरिका दोनों का फायदा'

इस रिसर्च पेपर के को-राइटर और सीजीडी में फेलो गौरव खन्ना ने कहा, 'यह सुनिश्चित करना वास्तव में जरूरी है कि दोनों देशों के आईटी सेक्टर योग्य लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर सकें क्योंकि यही लोग दोनों देशों की रिसर्च एंड डेवलपमेंट को वास्तव में आगे बढ़ाएंगे.'

यह बात 'द आईटी बूम एंड अदर अनइंटेंडेड कौंसिक्वेंसेज ऑफ चेजिंग द अमेरिकन ड्रीम’ शीर्षक की रिपोर्ट में कही गई है. खन्ना ने कहा कि एच1-बी कार्यक्रम का वास्तव में दोनों अर्थव्यवस्थाओं को लाभ हुआ.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi