S M L

अमेरिकाः लुटेरों ने भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या की

मृतक धरमप्रीत मूल रूप से पंजाब का रहने वाला था. वो अकाउंटिंग का छात्र था और वीजा पर करीब तीन साल पहले अमेरिका आया था

Updated On: Nov 16, 2017 03:27 PM IST

FP Staff

0
अमेरिकाः लुटेरों ने भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या की

अमेरिका के कैलिफोर्निया में 21 साल के एक भारतीय की हत्या कर दी गई है. मृतक का नाम धरमप्रीत सिंह जस्सर बताया जा रहा है. धरमप्रीत अमेरिका में किराने की दुकान में काम करता था.

धरमप्रीत मूल रूप से पंजाब का रहने वाला था. वो अकाउंटिंग का छात्र था और छात्र वीजा पर करीब तीन साल पहले अमेरिका आया था.

स्थानीय समाचार पत्र फ्रेस्नोबी के मुताबिक धरमप्रीत सिंह कैलिफोर्निया के फ्रेस्नो शहर में मंगलवार रात को किराने की एक दुकान में ड्यूटी पर था. तभी भारतीय मूल के एक व्यक्ति समेत चार सशस्त्र लुटेरे लूटपाट करने के लिए दुकान में घुस आए.

धरमप्रीत कैश काउंटर के पीछे छुप गया लेकिन नकदी और सामान लूटने के बाद वहां से जाते समय किसी एक लुटेरे ने उसे गोली मार दी. थोड़ी देर बाद एक ग्राहक दुकान में आया और उसने धरमप्रीत का शव वहां देखा. इसके बाद इस घटना के बारे में पुलिस को बुधवार को जानकारी दी गई.

भारतीय मूल के अठवाल को माना जा रहा है संदिग्ध 

पुलिस ने इस मामले में भारतीय मूल के 22 वर्षीय अठवाल को गिरफ्तार किया है. ऐसा माना जा रहा है कि वह उन चार संदिग्धों में शामिल है जिन्होंने लूटपाट की थी और कई गोलियां दागी थीं.

माडेरी काउंटी शेरिफ के कार्यालय के अनुसार पुलिस ने बताया कि फ्रेस्नो काउंटी शेरिफ के डिप्टी ने मंगलवार को घटना की मीडिया कवरेज देखी. उन्होंने घटना के संदिग्धों और अठवाल के बीच कुछ समानताएं देखीं. उनका मानना है कि अठवाल संदिग्ध हो सकता है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि संदिग्ध के लिए एक वारंट प्राप्त किया गया और उसे माडेरा डिपार्टमेंट ऑफ करेक्शन्स में स्थानांतरित किया जाएगा. अठवाल के खिलाफ हत्या और लूटपाट के आरोप लगाए गए हैं.

शेरिफ के कार्यालय ने बताया कि जांचकर्ता अन्य संदिग्धों की तलाश कर रहे हैं और इस मामले में अधिक जानकारी हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi