S M L

अमेरिका: भारतीय मूल का ISIS आतंकी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित

अमेरिकी गृह मंत्रालय ने सिद्धार्थ धर के अलावा बेल्जियम मूल के मोरक्को नागरिक अब्दुल लतीफ गनी को भी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया है

Updated On: Jan 24, 2018 01:37 PM IST

FP Staff

0
अमेरिका: भारतीय मूल का ISIS आतंकी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित

अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट (ISIS) में शामिल भारतीय मूल के ब्रिटिश आतंकी सिद्धार्थ धर को ग्लोबल टेरोरिस्ट घोषित किया है. अमेरिकी सरकार के इस घोषणा से आईएसआईएस के इस आतंकी पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए जाएंगे. इसके साथ ही अमेरिका में जो भी उसकी प्रॉपर्टी होगी उसे भी जब्त कर लिया जाएगा.

अमेरिकी गृह मंत्रालय ने सिद्धार्थ धर के अलावा बेल्जियम मूल के मोरक्को नागरिक अब्दुल लतीफ गनी को भी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया है. गनी की भी संपत्तियां जब्त होंगी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिद्धार्थ धर ने कुछ साल पहले हिंदू धर्म छोड़कर इस्लाम धर्म कबूल कर लिया था. धर्म बदलने के बाद उसने अपना नाम अबु रूमायसाह रख लिया था. धर पहले अल मुहाजिरुन नाम के आतंकी संगठन का मुख्य सदस्य था. उसे 2014 में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उसी साल जमानत के बाद वह अपने परिवार के साथ सीरिया भाग गया.

सीरिया जाने के बाद उसने आईएसआईएस ज्वॉइन कर ली. वह आईएसआईएस का सीनियर कमांडर बन गया और 'जिहादी जॉन' के नाम से कुख्यात मोहम्मद एमवाजी की जगह ले ली. जनवरी 2016 में यूके के लिए जासूसी करने वाले कई कैदियों की आईएसआईएस आतंकियों ने गला काटने का वीडियो जारी किया था. उस वीडियो में मास्क पहने जो शख्स था, वह कथित तौर पर धर ही है.

आतंकी सिद्धार्थ धर मीडिया में तब चर्चा में आया, जब आईएसआईएस में सेक्स स्लेव बनाई गई एक यहूदी लड़की ने मई 2016 में अपनी किडनैपिंग का खुलासा किया. लड़की के मुताबिक, सिद्धार्थ धर उसे अगवा कर इराक के शहर मोसुल ले गया था.

(साभार न्यूज- 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi