S M L

खौफनाक कहानी: 90 से ज्यादा हत्याएं करने वाला सीरियल किलर 'रेपिस्ट' कहते ही भड़क जाता था

इन सब में सबसे चौंका देने वाली बात ये है कि सैमुअल साल दर साल कई हत्याएं करता रहा लेकिन किसी को भी ये पता नहीं चला कि इन हत्यों का एक ही पैटर्न है

Updated On: Nov 28, 2018 11:49 AM IST

FP Staff

0
खौफनाक कहानी: 90 से ज्यादा हत्याएं करने वाला सीरियल किलर 'रेपिस्ट' कहते ही भड़क जाता था

व्हीलचेयर पर बैठा 78 साल का आदमी. सफेद हो चुके बाल, चेहरे पर झुर्रियां, डायबिटीज और दिल के रोग की वजह से कमजोर हो चुका शरीर. इन सब चीजों को मिलाए तो एक ऐसे शख्स की छवि बनेगी जिसने जिंदगी भर कड़ी मेहनत की और अब वृद्ध अवस्था में आकर वो थक चुका है और सिर्फ आराम करना चाहता है. लेकिन आज हम आपको जिस शख्स के बारे में बताएंगे उसकी छवि इससे बिल्कुल उलट है.

भले ही 78 साल की उम्र में उसके चेहरे पर झुर्रिया पड़ गई हों, शरीर कमजोर हो गया हो, लेकिन उसकी खौफनाक आखें उन सभी करतूतों का पर्दाफाश कर देती है, जो उसने जिंदगी भर की हैं. सैमुअल लिटल नाम का ये शख्स फिलहाल अमेरिका की टेक्सस जेल में बंद है. हर दिन भारी सुरक्षा के बीच इसे इटंरव्यू रूम में ले जाया जाता है ताकि ये अपने अपराधों का कच्चा चिट्ठा बता सके.

90 से ज्यादा हत्याओं का आरोप

सैमुअल पर अमेरिका में 90 से ज्यादा हत्याएं करने का है, जिन्हें सैमुअल खुद कबूल कर चुका है. 78 साल की उम्र में भी सैमुअल को अपने पुराना से पुराना अपराध याद है, जिन्हें वो बड़े मजे से बताता है. सैमुअल बताता है कि किस तरह वह नाइट कल्ब, बार और सड़कों से ऐसी महिलाओं को चुनता जो आसानी से उसके शिकंजे में आ जाती थीं और फिर अपनी कार की पीछे की सीट पर उनका गला घोंटकर बेरहमी से उनकी हत्या कर देता था.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 1980 में लॉस एजेंलिस में 3 महिलाओं की हत्या के आरोप में सैमुअल पहले ही 3 उम्रकैद की सजा काट रहा है. लेकिन अधिकारियों को शक है कि उसने कम से कम 14 राज्यों में हत्या की हैं.

इन सब में सबसे चौंका देने वाली बात ये है कि सैमुअल साल दर साल कई हत्याएं करता रहा लेकिन किसी को भी ये पता नहीं चला कि इन हत्यों का एक ही पैटर्न है.

रिपोर्ट के मुताबिक सैमुअल ने कबूल किया है कि उसने कई राज्यों में हत्याएं की. उसने बताया कि वे ज्यादातर उन महिलाओं को शिकार बनाता था जो या तो गरीब होती थी या फिर जिन्हे शराह और ड्रग्स की आदस होती थी. उन महिलाओं का बैक ग्राउंड ऐसा होता था कि परिवार उनके लापता होने की रिपोर्ट या तो दर्ज नहीं करवाता था और अगर करवाता था तो काफी दिनों बाद, जिससे पुलिस को भी जांच में कुछ खास सबूत नहीं मिल पाते थें.

man murder wife

सैमुअल से पूछताछ करने वाले अधिकारी बताते हैं कि वो ज्यादातर हत्याएं सेक्शुअली मोटिवेटेड होकर करता था, लेकिन वो खुद रेपिस्ट नहीं कहता था. अगर उसे कोई रेपिस्ट कहता भी था तो उसे सहन नहीं होता था.

रिपोर्ट के मुताबिक फ्लॉरिटा के जांचकर्ता बताते हैं कि वह महिलाओं को तड़पा तड़पा कर मारता था. महिलांओं की गला घोंटकर हत्या करने से पहले वो उन्हें बुरी तरीके से पीटता था. वो खुद एक बॉक्सर रह चुका था, इसलिए वो महिलाओं को इतनी जोर से पंच मारता था कि उनकी रीढ़ की हड्डी टूट जाती थी. महिलाओं की ऑटोप्सी रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है.

कैसे सामने आया इन अपराधों में सैमुअल का नाम?

दरअसल पुलिस ने डीएनए रिपोर्ट के जरिए सैमुअल को अपने शिकंजे में लिया. पुलिस ने शवों के जीएनए सैंपल इकट्ठे किए और फिर जो सैमुअल के डीएनए से मैच हो गए. इसके बाद उसे केंटकी स्थित शेल्टर होम से ट्रैक किया गया.

अधिकारी बताते हैं कि जब सैमुअल अपनी करतूतों के बारे में बताता है तो उसके चेहरे पर कोई पछतावा नहीं होता. बल्कि उसे मजा आता है कि वो इतनी अटेंशन मिल रही है. वो बड़े मजे से अपने अपराधों को याद करता है और उनके बारे में बताता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi