Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

एलियंस का एक मैसेज भी कर सकता है धरती का विनाश!

रिसर्चर्स का कहना है कि अगर एलियंस कोई मैसेज भेजें, तो उसे न खोलने में ही भलाई है

FP Staff Updated On: Feb 15, 2018 04:54 PM IST

0
एलियंस का एक मैसेज भी कर सकता है धरती का विनाश!

दुनिया में एलियंस को लेकर जितनी उत्सुकता है, उतना ही डर भी. एलियंस को लेकर हमने कई फिल्में भी बनाई है, जहां कभी एलियंस ने धरती पर हमला बोल दिया है तो कभी दोस्ती का हाथ बढ़ाया है. कोई मिल गया फिल्म में तो एलियंस से मैसेज भी मिलता है, लेकिन अब रिसर्चर्स का कहना है कि एलियंस की ओर से आया एक मैसेज भी इस धरती का विनाश कर सकता है.

रिसर्चर्स का कहना है कि अगर एलियंस कोई मैसेज भेजें, तो उसे न खोलने में ही भलाई है.

जर्मनी के सॉनबर्ग ऑब्जर्वेटरी के स्वतंत्र वैज्ञानिक माइकल हिप्के और यूनिवर्सिटी ऑफ हवाई के हाई एनर्जी फिजिक्स ग्रुप के प्रोफेसर जॉन जी लर्न्ड के जॉइंट रिसर्च में दोनों वैज्ञानिकों ने कहा है कि एलियंस का कोई भी मैसेज तुरंत डिलीट करना होगा. वर्ना पृथ्वी को खतरा हो सकता है.

अपनी बात को साफ करते हुए दोनों रिसर्चर्स ने अपने रिसर्च पेपर 'इंटरस्टेलर कम्युनिकेशन. IX. मैसेज डिकंटेमिनेशन इज इंपॉसिबल ' में कहा है- 'स्पेस में मिले किसी भी जटिल मैसेज को डिस्प्ले, विश्लेषण करने और डिकोड करने के लिए कंप्यूटर्स की जरूरत होगी, ऐसे जटिल मैसेज को पूरी तरह डिकंटेमिनेट करने यानी उससे किसी मालवेयर या खतरे को दूर करने की पूरी संभावना नहीं होगी और इसमें तकनीकी खतरे भी होंगे, जो हमारे अस्तित्व के लिए खतरा हो सकते हैं.'

रिसर्च में आगे लिखा गया, 'हालांकि, इस पर बहस की जा चुकी है कि ब्रह्मांड में रह रहे दूसरे प्राणी हमारे लिए खतरा नहीं है, लेकिन फिर भी किसी संभावना को खारिज नहीं किया जा सकता है. आखिरकार किसी के लिए भी एक बैटलशिप भेजने से ज्यादा आसान एक मैसेज भेजना होगा. और एक मैसेज से कई तरह के नुकसान हो सकते हैं.'

रिसर्चर्स मुख्य तौर पर इस बात पर फोकस करना चाहते थे कि चूंकि धरती पर मानव को सबसे श्रेष्ठ अपने ह्यूमन इंटेलीजेंस की वजह से हैं, इस लिहाज से एक्स्ट्राटेरेस्ट्रियल इंटेलीजेंस की ओर से अगर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस मैसेज आता है, तो ये ह्यूमन्स को खत्म कर सकता है.

लेकिन इसके साथ ही रिसर्चर्स ने एक ब्रह्मांडीय नेटवर्क से जुड़ने की संभावनाओं और इसके फायदों को खारिज भी नहीं किया. उनका कहना था कि किसी भी रास्ते पर चलने से पहले सारे खतरों और अवसरों को पहले से समझ लेना ज्यादा बेहतर है. हम मानते हैं कि खतरा है, भले ही इसके चांस काफी कम हो, और फायदा ज्यादा है, इसके लिए मैसेज पढ़ना भी जरूरी है.

वैसे, इंसान सालो से पता लगाने की कोशिश कर रहा है कि ब्रह्मांड में हम अकेले हैं या किसी कोने में कोई और भी रहता है. और अगर है तो हमारे रिश्ते कैसे होंगे. हम भी ये जानना चाहेंगे कि अगर हमारा कभी किसी एलियन से पाला पड़ता है, तो वो वो जादू या ईटी जैसा होता है या एलियन, द मार्स अटैक या स्टार वार्स टाइप ये तो वक्त बताएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi