S M L

क्या डोनाल्ड ट्रंप से चोरी-छुपे बगावत कर रहे हैं उनके अधिकारी?

वाइट हाउस ने इस संपादकीय को लिखने वाले वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के इस्तीफे की मांग की है

Updated On: Sep 06, 2018 04:30 PM IST

FP Staff

0
क्या डोनाल्ड ट्रंप से चोरी-छुपे बगावत कर रहे हैं उनके अधिकारी?

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का यूं तो वाइट हाउस का सफर बहुत अच्छा नहीं जा रहा लेकिन अब लगता है कि उनके अधिकारी भी उनके खिलाफ बगावत कर रहे हैं. अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने द न्यूयॉर्क टाइम्स में अपने नाम को गुप्त रखकर एक लेख लिखा है. इस लेख में लिखा गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ऐसे तरीके से काम कर रहे हैं जो ‘हमारे गणतंत्र की स्थिति के लिए हानिकारक है.’ डोनाल्ड ट्रंप ने इस लेख और लेखक को ‘देशद्रोह’ और ‘कायरतापूर्ण’ बताया.

‘आई एम पार्ट ऑफ द रेजिस्टेंस इनसाइड द ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन’ नाम से छपे लेख में अधिकारी ने कहा कि उन्होंने और उनकी जैसी सोच के सहकर्मियों ने राष्ट्रपति के एजेंडा और उनके खराब रुझानों को रोकने का आह्वान किया है.

बिना नाम और परिचय वाले इस लेख में लेखक ने दावा किया कि ट्रंप अपने राष्ट्रपति पद के लिए ऐसी परीक्षा का सामना कर रहे हैं जो पहले कभी किसी आधुनिक अमेरिकी राष्ट्रपति ने नहीं की. द न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक ट्वीट कर लेखक की पहचान पुरुष के तौर पर की है.

अखबार बिरले ही बेनाम लेख प्रकाशित करता है. अखबार ने कहा कि वह लेखक के अनुरोध पर ट्रंप प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी के नाम का खुलासा नहीं कर रहा है.

अधिकारी ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि प्रशासन सफल हो और मानते हैं कि उनकी कई नीतियों ने पहले ही अमेरिका को सुरक्षित और समृद्ध बनाया. लेकिन हमारा मानना है कि हमारा पहला कर्तव्य इस देश के प्रति है और राष्ट्रपति इस तरीके से काम कर रहे हैं जो हमारे गणतंत्र के स्वास्थ्य के लिए अहितकारी है.’

बहरहाल, ट्रंप वाइट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत में अखबार पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि ‘बिना नाम का मतलब डरपोक, संपादकीय.’ एक ट्वीट में उन्होंने द न्यूयॉर्क टाइम्स से व्यक्ति की पहचान उजागर करने की मांग की.

ट्रंप ने टि्वटर पर कहा, ‘देशद्रोह? क्या यह तथाकथित वरिष्ठ अधिकारी सच में है या एक अन्य फर्जी सूत्र के साथ यह महज द न्यूयॉर्क टाइम्स की विफलता है. अगर कायर बेनाम व्यक्ति निश्चित तौर पर है तो टाइम्स को राष्ट्रीय सुरक्षा के मकसद से उसे एक बार सरकार को सौंपना चाहिए.

वाइट हाउस ने इस संपादकीय को लिखने वाले वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के इस्तीफे की मांग की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi