विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

'पेट्या' मांगता है कंप्यूटर को अनलॉक करने के लिए 300 डॉलर की फिरौती

'पेट्या' वायरस के अटैक के बाद सिस्टम पर डिस्प्ले होता है ये मैसेज

FP Editors Updated On: Jun 28, 2017 02:30 PM IST

0
'पेट्या' मांगता है कंप्यूटर को अनलॉक करने के लिए 300 डॉलर की फिरौती

भारत समेत दुनियाभर के कई देश दो महीने के भीतर दूसरी बार 'साइबर अटैक' की चपेट में आए हैं. इस बार 'पेट्या' वायरस ने बैंक, सरकारी संस्थान, एयरपोर्ट और शीर्ष कंपनियों को निशाना बनाया है. इस खतरनाक रैनसमवेयर ने कंपनियों के सिस्टम को ठप कर 300 डॉलर की फिरौती मांगी है. 'पेट्या' ने सबसे पहले मंगलवार को यूक्रेन को निशाना बनाया और उसके बाद पूरे यूरोप को अपनी चपेट में लिया.

'द टेलिग्राफ' के मुताबिक यूक्रेन में इस वायरस ने सरकारी विभागों, सेंट्रल बैंक, एयरक्राफ्ट और मेट्रो नेटवर्क के सिस्टम को हैक कर ठप कर दिया. इसके बाद 'पेट्या' ने ब्रिटेन की सबसे बड़ी एडवरटाइजिंग फर्म डब्ल्यूपीपी को निशाना बनाया और नीदरलैंड, नॉर्वे, रूस, डेनमार्क, फ्रांस, अमेरिका और भारत की तरफ फैल गया.

ransome ware

क्या है पेट्या रैनसमवेयर

'पेट्या' एक कम्प्यूटर वायरस है, जो फाइल को लॉक कर देता है. इसके बाद सिस्टम पर एक मैसेज डिस्प्ले होता है जो फाइल को अनलॉक करने के लिए पैसों की मांग करता है. फिरौती की मांग बिटक्वाइन के जरिए की जाती है.

बेहद खतरनाक है ये वायरस

'द गार्जियन' की रिपोर्ट में बताया गया है कि जब किसी कंपनी या सरकारी विभाग पर इस वायरस का अटैक होता है तो यह एक-एक कर सभी कम्प्यूटर सिस्टम को प्रभावित करता है. जो कम्प्यूटर इससे प्रभावित नहीं होते ये उसे छोड़ अगले पर अटैक करता है.

कैसे बच सकते हैं

अगर आपके सिस्टम में फाइल का बैक-अप है तो आप इस वायरस के अटैक से बच सकते हैं. अगर सिस्टम में फाइल्स और डॉक्यूमेंट का बैकअप नहीं है, तो बिना फिरौती दिए आप उन डॉक्यूमेंट्स और फाइल को हासिल नहीं कर सकते हैं.

'पेट्या' कम्प्यूटर पर अटैक के बाद एक घंटे तक इंतजार करता है. उसके बाद यह सिस्टम को फिर से स्टार्ट करता है. अगर सिस्टम के रीबूटिंग के दौरान आप फौरन कम्प्यूटर को स्विच ऑफ कर देते हैं तो आप अपनी फाइल को इनक्रिप्ट होने से बचा सकते हैं. आप मशीन से अपनी फाइल रेस्क्यू कर सकते हैं.

ransome ware

एंटी-वायरस अपडेट होने पर 'पेट्या' के अटैक से बचा जा सकता है

अगर आपका सिस्टम रैनसम नोट के साथ रिबूट होता है तो फिरौती न दें. आप अपने पीसी को बंद करें. इंटरनेट कनेक्शन को कट करें और हार्ड ड्राइवर को रिफॉर्मेट करें. इसके बाद बैक-अप से अपनी फाइल को रिइन्स्टॉल करें. इसके अलावा अगर आप रोजाना अपनी फाइलों को बैक-अप रखते हैं, एंटी-वायरस सॉफ्टवेयर को अपडेट करते रहते हैं, तो आप इस वायरस की चपेट में आने से बच सकते हैं.

फिरौती मांगने के लिए आता है ये संदेश

उप्स आपकी महत्वपूर्ण फाइलें लॉक हो गई हैं. हमारी सेवाओं के बिना इन फाइलों को नहीं खोला जा सकता है. फाइलें तभी खुलेंगी जब नीचे भेजे पते पर 300 डॉलर बिटक्वाइन भेजे जाएंगे.

क्या है बिटक्वाइन

बिटक्वाइन वर्चुअल करेंसी हैं. हालांकि, इसे परंपरागत करेंसी में बदला जा सकता है. ऑनलाइन बिना किसी मध्यस्थ के इस करेंसी के जरिए लेन-देन किया जाता है.

1 बिटक्वाइन- 1836 पाउंड भारतीय करेंसी में- 1,50,900

साभार न्यूज 18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi