S M L

SARAHAH ऐप: जहां ये पता नहीं चल पाएगा कि मैसेज किसने किया?

यूजर्स द्वारा मैसेज भेजने पर रिसीवर मैसेज तो पढ़ पाएगा, लेकिन रिप्लाई नहीं कर पाएगा

Updated On: Aug 10, 2017 02:37 PM IST

FP Staff

0
SARAHAH ऐप: जहां ये पता नहीं चल पाएगा कि मैसेज किसने किया?

भारत समेत दुनियाभर में Sarahah ऐप पॉपुलर हो रहा है. इसे सऊदी अरब के जैनुल आबेदीन ने बनाया है. इस ऐप का दावा है कि इसके जरिए यूजर्स अपने साथ काम करने वाले कर्मचारियों और दोस्तों को ईमानदार फीडबैक भेज सकते हैं. यह एक ऐसा ऐप है जिसके जरिए यूजर्स किसी को भी मैसेज भेज सकते हैं, रिसीव करने वाले को भेजने वाले के नाम का पता नहीं चलेगा.

कैसे करें रजिस्ट्रेशन

यूजर्स को सबसे पहले Sarahah की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना होगा. यहां ईमेल आईडी लिखनी होगी. रजिस्ट्रेशन के बाद इसका लिंक फेसबुक और दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट करने का ऑप्शन मिलेगा. यूजर्स चाहें तो लिंक को पब्लिक कर सकते हैं या निजी तौर पर अपने किसी को भेज सकते हैं. लिंक को क्लिक करते ही कोई भी आपको मैसेज भेज सकता है. लेकिन आप नहीं जान पाएंगे कि कौन मैसेज भेज रहा है.

sarahah application

कहां से करें डाउनडोल

Sarahah को आप ऐप स्टोर या प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं. जैसे ही कोई आपको मैसेज भेजेगा Sarahah ऐप में नोटिफिकेशन मिलेगा और आप मैसेज पढ़ सकते हैं, लेकिन रिप्लाई नहीं कर सकते. भारत में इस ऐप को 50 लाख से ज्यादा डाउनलोड किया जा चुका है.

कब हुआ लॉन्च

Sarahah ऐप फरवरी 2017 में वेबसाइट के तौर पर लॉन्च हुआ था. लॉन्चिंग के 30 दिन के अंदर मिस्त्र में इस ऐप के यूजर्स संख्या 25 लाख, अरब में 12 लाख और ट्यूनिशिया में 17 लाख पहुंच गई थी. इसके बाद इसे ऐप के रूप में बनाया गया और जून में यह ऐप्पल ऐप स्टोर और गूगल प्ले स्टोर पर आया. यह ऐप अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन समेत 30 से ज्यादा देशों में ऐप्पल ऐप स्टोर पर मौजूद है. बता दें कि Sarahah अरबी भाषा का शब्द है. इसका मतलब 'ईमानदारी' होता है.

(साभार न्यूज़ 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi