विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

'मोदी कीनोट' ऐप: सोशल ट्रेंड्स का साइड इफेक्ट?

अब आप 2,000 और 500 के नोट पर पीएम मोदी को भी देख सकेंगे.

Tulika Kushwaha Updated On: Nov 21, 2016 06:46 AM IST

0
'मोदी कीनोट' ऐप: सोशल ट्रेंड्स का साइड इफेक्ट?

इन दिनों सोशल मीडिया पर नोटबंदी का मुद्दा ट्रेंड में हैं. पिछले दिनों में नोटबंदी ने अकेले उतने ट्रेंड बना डाले हैं जितने अकेले सुब्ह्मण्यम स्वामी या काटजू नहीं बना पाते. नोटों के साथ सेल्फी के बाद अब एक नया ट्रेंड चल निकला है.

अब आप 2,000 और 500 के नोट पर पीएम मोदी को भी देख सकेंगे. बस इतना ही नहीं, आप 8 नवंबर की रात का उनका भाषण भी सुन पाएंगे. ये सब होगा ‘मोदी कीनोट’ एेप से.

बस आपको खर्च करना होगा 25 एमबी डेटा, अपने एंड्रॉयड फोन में (अगर आपके पास एप्पल आईफोन है तो सॉरी) गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना होगा ‘मोदी कीनोट’ एेप और आपके 2,000-500 के नोट पर पीएम मोदी प्रकट हो जाएंगे.

वैसे मोदी यूं ही नहीं नजर आएंगे आपकी नोट पर. इसके लिए आपको ‘मोदी कीनोट’ एेप में जाकर नोट को स्कैन करना होगा.

सोशल मीडिया पर ये नया फीचर खूब वायरल हो रहा है. लोगों ने इस एेप के साथ अपने एक्सपीरियंस के वीडियोज शेयर किए हैं.

एेप तो कमाल है लेकिन इसको लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने रायता फैला रखा है. कुछ लोग इसे जस्ट वॉच फॉर फन वीडियो बता रहे हैं. कुछ लोग इसे फेक एेप कह रहे हैं. कुछ लोगों ने तो इसे नोट का सिक्योरिटी फीचर तक बता दिया है.

एक यूजर ने लिखा है कि ये एेप फेक है, उसने इसे टॉयलेट पेपर पर चलाया तो भी एेप काम कर रहा था. मतलब इसके लिए नोटों की जरूरत नहीं है.

वहीं कुछ ने ये एक्सपेरिमेंट नोटों के फोटोकॉपी पर भी करते हुए वीडियोज शेयर किया है. ऐप को इन फोटोकॉपी पर भी काम करते हुए देखा जा सकता है.

सरकार ने नोटों में ऐसा कोई फीचर डिजाइन नहीं किया. ये तो बस 'मोदी कीनोट' एेप का कमाल है. गूगल प्लेस्टोर पर ये एप उपलब्ध है और नीचे साफ-साफ लिखा हुआ है कि ये एेप बस मनोरंजन के उद्देश्य से बनाया गया है.

साथ ही कहा गया है कि ये पीएम मोदी के कालेधन के खिलाफ दिए गए भाषण को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए एक संदेश है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi