S M L

कुछ सालों में दुनिया से खत्म हो जाएगी ड्राइवर की नौकरी

माइक्रोसॉफ्ट का नया आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर एयरसिम इस फंतासी को हकीकत बनाने की तरफ एक और कदम है

Updated On: Nov 27, 2017 05:37 PM IST

FP Staff

0
कुछ सालों में दुनिया से खत्म हो जाएगी ड्राइवर की नौकरी

दुनिया भर में इस बात का डर हैं कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या रोबोट्स के चलते आने वाले कुछ सालों में कई नौकरियां जाएंगी. इसमें भी दुनिया भर के विशेषज्ञ ये मान रहे हैं कि कुछ दशकों बाद सार्वजनिक परिवहन से ड्राइवर की नौकरी लगभग खत्म हो जाएगी. माइक्रोसॉफ्ट ने अपने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस प्रोजेक्ट एयरसिम को अब ड्राइवर लेस कार बनाने के लिए बढ़ाना शुरू किया है.

एयरसिम वास्तविक लगने वाला वातावरण बनाता है, जिसमें अपने आप चलने वाली गाड़ियों की सेफ्टी को टेस्ट किया जा सकता है.  एक निश्चित समय तक टेस्ट करने के बाद इन गाड़ियों को सामान्य सड़कों पर उतारा जा सकता है. माइक्रोसॉफ्ट का कहना है कि एयरसिम के अपडेटेड वर्जन में ड्रोन के साथ कार को भी सिम्युलेट किया जा सकता है.

एयर सिम गाड़ियों को शहर के ट्रैफिक का माहौल देता है. इसमें आने वाले समय में मौसम की परेशानियों को भी शामिल कर लिया जाएगा. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आपकी सोच से कहीं तेजी से दुनिया बदल रहा है. आज से 20 साल पहले मोबाइल फोन और जीपीएस भविष्य की तकनीक लगते थे. जबकि देखते ही देखते लैंडलाइन फोन गुजरे जमाने की बात हो गए.

आज आप को लग सकता है कि बिना ड्राइवर की कार, ट्रेन या बस बहुत दूर की बात है. लेकिन आज जब कोई ओला, ऊबर से कैब बुक करते हैं तो बिना ड्राइवर, एजेंट या किसी भी इंसान के एक टैक्सी बुलाते हैं. उस टैक्सी में किराये से लेकर रास्ते तक कुछ भी इंसान तय नहीं करता. ज्यादातर मामलों में तो पैसे भी नगद नहीं दिए जाते. इसलिए अगर 20 साल बाद आपको 'हमारे जमाने में, कार ड्राइवर चलाते थे' जैसी बात कहनी पड़े तो चौंकिएगा मत.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi