S M L

मार्क जकरबर्ग ने कहा, सीखना है तो पीएम मोदी से सीखें

मार्क जकरबर्ग ने अपने नोट मे लिखा कि नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया का बेहतर प्रयोग करते हैं.

Updated On: Feb 17, 2017 02:25 PM IST

FP Staff

0
मार्क जकरबर्ग ने कहा, सीखना है तो पीएम मोदी से सीखें

फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने नरेंद्र मोदी का उदाहरण देते हुए कहा है कि भारतीय प्रधानमंत्री से सोशल मीडिया का सही प्रयोग सीखना चाहिए.

जकरबर्ग ने 6500 शब्दों का पोस्ट किया है. इसे लोगों द्वारा उनका मिशन स्टेटमेंट माना जा रहा हैं. इसमें उन्होंने पीएम मोदी का उदाहरण देते हुए कहा कि हमें नरेंद्र मोदी सरकार से सीखना चाहिए कि कैसे सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिए कैसे चुने गए प्रतिनिधि जनता से सीधे संवाद कर सकते हैं और कैसे जनता और प्रतिनिधियों के बीच जवाबदेही तय कर सकते हैं.

जकरबर्ग के अनुसार, सोशल मीडिया लोगों को रोजमर्रा के विषयों से जोड़े रखने में मदद करता है. वह लिखते हैं कि पीएम मोदी ने इसके प्रयोग से सीधे समाज और समाज के प्रतिनिधियों से सीधे संवाद स्थापित किया. यह उस स्थिति से अलग है जब नेता केवल चुनाव के समय लोगों के सामने आते थे.

जकरबर्ग ने अपने नोट मे लिखा कि भारत में नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रियों से कहा कि वे सरकार से जुड़ी सारी नीतियों और सारी सूचनाओं को फेसबुक पर शेयर करें जिससे उन्हें जनता से डायरेक्ट फीडबैक मिल सके.

मार्क जकरबर्ग ने केन्या का उदाहरण भी दिया और बताया कि वहां का पूरा गांव वाट्सऐप ग्रुप पर हैं जिसके जरिए वे अपने प्रतिनिधि से सीधे जुड़े हुए हैं. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि भारतीय भी इससे पूरी तरह से वाकिफ है.

उन्होंने ये भी लिखा कि जो लोग फेसबुक पर सबसे ज्यादा एक्टिव रहते हैं, वे हमेशा सबसे आगे रहते हैं. जैसे 1960 में टेलीविजन जनसंचार का सबसे बड़ा जरिया था वैसे ही 21वीं सदी मे सोशल मीडिया हैं.

जकरबर्ग ने लिखा कि अब न सिर्फ देश और शहर बल्कि जरूरत है पूरी मानवजाति के ग्लोबली साथ जुड़ने की जरूरत है. उन्होंने फेसबुक को साथ जुड़ने का एक बेहतरीन तरीका बताया.

जकरबर्ग ने अपने नोट में डोनाल्ट ट्रंप का नाम तो नहीं लिया लेकिन यह जरूर कहा कि पोलराइजेशन बढ़ रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi