S M L

गूगल ने एंड्रायड 'लिपिजन' स्पाइवेयर को ब्लॉक किया

यह स्पाइवेयर यूजर्स के ईमेल, एसएमएस मैसेज, लोकेशन, वॉयस कॉल्स और मीडिया की निगरानी और जासूसी करने में समक्ष है

IANS Updated On: Jul 31, 2017 02:31 PM IST

0
गूगल ने एंड्रायड 'लिपिजन' स्पाइवेयर को ब्लॉक किया

'लिपिजन' नामक एक नया स्पाइवेयर आया है, जो यूजर्स के टेक्स्ट मैसेजेज, वॉयस कॉल्स, लोकेशन डेटा और फोटो को जब्त कर लेता है. गूगल ने इस स्पाइवेयर को ब्लॉक कर दिया है. कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि उसे एंड्रायड स्पाइवेयर 'चरसोर' की खोजबीन के दौरान 'लिपिजन' का पता चला, जो एक नया स्पाइवेयर है.

'लिपिजन' के कोड में साइबर हथियार कंपनी एक्यूस टेक्नॉलॉजीज का संदर्भ मिला है.

यह एक मल्टीस्टेज स्पाइवेयर हैं, जो यूजर्स के ईमेल, एसएमएस मैसेज, लोकेशन, वॉयस कॉल्स और मीडिया की निगरानी और जासूसी करने में समक्ष है.

पोस्ट में कहा गया है, 'हमने 20 लिपिजन ऐप को वितरित होते ढूंढ़ा है, जो 100 से कम डिवाइसों को प्रभावित कर पाया था. इसे एंड्रायड पारिस्थितिकी तंत्र में ब्लॉक कर दिया गया है. गूगल प्ले प्रोटेक्ट ने सभी प्रभावित डिवाइसों को सूचित किया है कि वे लिपिजन ऐप हटा लें.'

लिपिजन स्पाइवेयर कई कार्य करने में समक्ष है, जिसमें स्क्रीनशॉट लेना, डिवाइस के कैमरे से तस्वीरें लेना, डिवाइस के माइक्रोफोन से रिकार्डिग करना, कॉल रिकार्डिग और लोकेशन मॉनिटरिंग शामिल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi