Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

गूगल पैदा करेगा मच्छर, लगाएगा बीमारी वाले मच्छरों की आबादी पर रोक

मकसद एडीज एजेप्टाई मच्छरों की संख्या में कमी लाना है

IANS Updated On: Jul 23, 2017 06:10 PM IST

0
गूगल पैदा करेगा मच्छर, लगाएगा बीमारी वाले मच्छरों की आबादी पर रोक

दिग्गज इंटरनेट कंपनी गूगल की मातृ कंपनी अल्फाबेट ने अमेरिकी वैज्ञानिकों के साथ मिलकर बीमारी फैलाने वाले मच्छरों की आबादी कम करने की योजना तैयार की है. गूगल की योजना मशीन से 2 करोड़ ऐसे मच्छर पैदा करने की है, जो मच्छरों की आबादी बढ़ने से रोकेंगे.

समाचार पत्र 'वाशिंगटन पोस्ट' की रिपोर्ट के मुताबिक, योजना के अनुसार कैलिफोर्निया के फ्रेस्नो काउंटी में लाखों की संख्या में बंध्या नर मच्छर छोड़े जाएंगे. यह नर मच्छर जब प्रकृति में मौजूद मादा मच्छरों से संसर्ग करेंगे, तो उसके बाद मादा मच्छर जो अंडे देंगी, उनसे बच्चे विकसित नहीं होंगे.

इस परियोजना का नाम डीबग फ्रेस्नो है. इस योजना का परिचालन अल्फाबेट की सहायक कंपनी वेरली कर रही है.

वैज्ञानिकों ने कहा कि इसका मकसद एडीज एजेप्टाई मच्छरों की संख्या में कमी लाना है. मच्छरों की यह प्रजाति जीका, डेंगू व चिकुनगुनिया फैलाने के लिए जिम्मेदार होती है.

कंपनी ने फ्रेस्नो काउंटी के करीब स्थित दो इलाकों में 20 सप्ताह में 10 लाख ऐसे नर बंध्या मच्छरों को छोड़ने की की योजना बनाई है, जो काटते नहीं.

रिपोर्ट में कहा गया है कि बंध्या नर मच्छरों को पैदा करने के लिए उन्हें वोलबचिया बैक्टीरिया से संक्रमित किया जाएगा. वोलबचिया एक तरह का जीवाणु है जो प्राकृतिक तौर पर 40 फीसदी कीटों में पाया जाता है.

वेरली ने कहा, 'इन समुदायों में समय के साथ हमें उम्मीद है कि एडीज एजेप्टाई की मौजूदगी में भारी गिरावट देखने को मिलेगी.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi