S M L

गूगल डूडल: इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक इंडस्ट्री को पूरे हुए 66 साल

इसमें उस इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक के उस स्टूडियो की याद दिलाई गई है, जिसने संगीत की दुनिया को एक और म्यूजिक जॉनर दिया.

Updated On: Oct 18, 2017 11:36 AM IST

FP Tech

0
गूगल डूडल: इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक इंडस्ट्री को पूरे हुए 66 साल

गूगल आज यानी 18 अक्टूबर को इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक के 66 वर्ष पूरे होने पर डूडल बनाकर सेलिब्रेट कर रहा है.

गूगल के लोगो को डूडल टीम ने इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक के स्टूडियो में एनिमेट किया गया है. इसमें उस इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक के उस स्टूडियो की याद दिलाई गई है, जिसने संगीत की दुनिया को एक और म्यूजिक जॉनर दिया. ये गूगल बर्लिन के इलस्ट्रेटर हेनिंग वेगनब्रेथ ने बनाया है.

बीसवीं सदी के बीच के दौर से इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक की शुरुआत हुई. जर्मनी के कोलोन के वेस्ट जर्मन ब्रॉडकास्टिंग फैसिलिटी में था स्टूडियो फॉर इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक, जहां सबसे पहले ये प्रयोग किया गया.

ये स्टूडियो दुनिया भर से संगीत कलाकारों और प्रोड्यूसरों को संगीत के साथ ये नया प्रयोग करने के लिए बुलाता था.

सबसे पहले इस आइडिया के साथ कंपोजर वर्नर मेयर-एप्पलर और हर्बर्ट एमर्ट आए थे. उन्होंने इस दिशा में काम करने के लिए सारी तकनीकी चुनौतियों पर विचार किया.

स्टूडियो में आर्टिस्ट्स इक्विपमेंट्स और टेक्नीकल कंपोजीशन के सहारे नए बीट्स बनाते, एडिट करते या साउंड मिक्सिंग करते और नई धुनें बनाते. बाद में इस स्टूडियो में दूर-दूर से आर्टिस्ट्स आने लगे और ये स्टूडियो इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक इंडस्ट्री की नींव बना.

आज इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक इस इंडस्ट्री के सबसे ज्यादा पॉपुलर म्यूजिक जॉनर में से एक है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi