S M L

इस ब्लड टेस्ट से टीबी होने की संभावना का दो साल पहले ही पता चल जाएगा

अध्ययन दल में शामिल लोगों ने एक नए तरह का ब्लड टेस्ट ईजाद किया है जो उन चार जीन के स्तर को मापता है जो अधिक जोखिम वाले रोगियों में टीबी के विकास का अनुमान लगाता है

Updated On: Apr 06, 2018 04:42 PM IST

Bhasha

0
इस ब्लड टेस्ट से टीबी होने की संभावना का दो साल पहले ही पता चल जाएगा

वैज्ञानिकों ने एक नए तरह के ब्लड टेस्ट का पता लगाया है जिसके जरिए अधिक जोखिम वाले रोगियों में ‘टीबी’ की शुरुआत होने से दो साल पहले ही उस बारे में सटीक पता लगाया जा सकता है.

अमेरिकन जर्नल ऑफ रेस्पीरेटरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसीन में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक एक्टिव टीबी से ग्रसित लोगों में यह रोग विकसित होने की सबसे अधिक आशंका होती है. फिर भी टीबी से संक्रमित करीब पांच से 20 फीसदी लोगों में ही यह विकसित होता है.

अध्ययन दल में शामिल लोगों ने एक नए तरह का ब्लड टेस्ट ईजाद किया है जो उन चार जीन के स्तर को मापता है जो अधिक जोखिम वाले रोगियों में टीबी के विकास का अनुमान लगाता है.

दक्षिण अफ्रीका के स्टेलेनबोश विश्वविद्यालय के गेरहर्ड वालजल ने बताया कि उन्होंने पाया कि रोग शुरू होने से पहले का यह अनुमान रक्त में मौजूद चार जीन के संयोजन की माप के जरिए संभव है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi