S M L

जल्द आने वाला है भारत का देसी सोशल मीडिया नेटवर्क, डेटा सिक्योरिटी की होगी गारंटी

2 महीनों से जसप्रीत बिंदा और महिंद्र मिलकर इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे है

Updated On: Jun 05, 2018 10:40 AM IST

FP Staff

0
जल्द आने वाला है भारत का देसी सोशल मीडिया नेटवर्क, डेटा सिक्योरिटी की होगी गारंटी

भारत को अब जल्द ही अपना नया सोशल मीडिया नेटवर्क मिलने जा रहा है. फेसबुक डेटा लीक के बाद महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने 'पीपल' नाम का सोशल मीडिया नेटवर्क लाने की पूरी तैयारी कर ली है. इसमें उनकी मदद जसप्रीत बिंद्रा ने की है जो महिंद्रा ग्रुप के डिजिटल सीनियर वाइस प्रसिडेंट हैं. 2 महिनों से जसप्रीत बिंदा और महिंद्र मिलकर इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे है.

आनंद महिंद्रा ने ट्विटर के जरिए इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि 'पीपल' को लेकर उनकी एक मीटिंग हुई है जिसके बाद वो इसे लेकर अब काफी क्लियर हैं.

उधर 'Peepul' ने भी अपने एक ट्वीट में डेटा सिक्योरिटी का जिक्र किया है. उन्होंने कहा है कि यहां हमारा अपना डेटा होगा और हम तय करेंगे कि इसका क्या करना है.

आनंद महिंद्रा ने की थी पहल

फेसबुक डेटा लीक मामले के सामने आने के बाद आनंद महिंद्र ने ट्विटर के जरिए लोगों से पूछा था कि क्या अब भी देसी सोशल मीडिया नेटवर्क लाने का सही समय नहीं है. उन्होंने कहा था कि इस वक्त लोगों को फेसबुक नेटवर्क से ज्यादा प्रोफेशनल नेटवर्क की जरूरत है. आनंद महिंद्रा ने भारतीय स्टार्टअप से कुछ ऐसा ही देसी नेटवर्क बनाने की अपील की थी और कहा था कि वो भी इसमें सहयोग करेंगे.

इसके बाद उन्हीं के ग्रुप के जसप्रीत बिंद्रा ने उन्हें ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी के जरिए सोशल मीडिया नेटवर्क बनाने का सुझाव दिया. ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी के जरिए डेटा सिक्योरिटी का खास खयाल रखा जाएगा.

क्या होती है ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी

द क्विंट के मुताबिक, ब्लॉकचैन टेकनॉलॉजी के जरिए लोगों को ऐसा प्लेटफॉर्म मिलता है जहां दो लोगों के बीच की बातचीत सुरक्षित रहती है और कोई तीसरा इसमें दखल नहीं दे सकता. इस टेक्नोलॉजी में हर डेटा का रिकॉर्ड होता है. इसके साथ ही ये केवल उन्हीं लोगों से शेयर किया जाता है जो इससे जुड़े हुए हैं. इस टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से पीपल में डेटा लीक गुंजाइश काफी कम हो जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi