live

urdu poetry Latest & Breaking News Hindi

फैज़ अहमद फैज़: जिसे और भी दुख दिखे ज़माने में मोहब्बत के सिवा

ख़ासFeb 13, 2018

फैज़ अहमद फैज़: जिसे और भी दुख दिखे ज़माने में मोहब्बत के सिवा

फैज़ की शायरी सताए हुए लोगों के लिए है और उनकी उम्मीदों और सपनों को आवाज देने वाली है

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

ट्रेंडिंग

लाइव

Match 4: Chattogram Challengers 69/3Sabbir Rahman on strike