live

poetry Latest News Videos

किस्सागोई with Tom Alter: रेख्ते के तुम्हीं उस्ताद नहीं हो ग़ालिब...

वीडियोDec 27, 2017

किस्सागोई with Tom Alter: रेख्ते के तुम्हीं उस्ताद नहीं हो ग़ालिब...

ग़ालिब की शायरी को जीने के लिए अगर थिएटर या रंगमंच से किसी का नाम लेना हो, तो उनमें सबसे आगे टॉम ऑल्टर का नाम होगा... टॉम साहब अब इस दुनिया में नहीं है... इंतकाल से चंद रोज पहले उन्होंने ग़ालिब की पुरानी दिल्ली से हिंदी फर्स्टपोस्ट के लिए शो किया था..

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

ट्रेंडिंग

लाइव

Super 12 - Match 17: Afghanistan 74/1Rahmanullah Gurbaz on strike