सरकारी योजनाओं Latest & Breaking News Hindi

'लैटरल इंट्री' की जरूरत समझनी हो तो पीएस अप्पू की 1984 की टिप्पणियां जान लें

राजनीतिJun 25, 2018

'लैटरल इंट्री' की जरूरत समझनी हो तो पीएस अप्पू की 1984 की टिप्पणियां जान लें

जानकार सूत्र बताते हैं कि नरेंद्र मोदी के सत्ता में आने के बाद से ही अफसरों की कार्य-संस्कृति बदलने की कोशिश की जाने लगी थी. पर जब इस मामले में सीमित सफलता मिली तो सरकार ने लेटरल बहाली की प्रक्रिया शुरू की है

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

ट्रेंडिंग

लाइव

Match 3: Western Australia 239/2Cameron Green on strike