S M L

स्वप्ना बर्मन को जूते तो मिल गए लेकिन रुक गई सरकारी मदद, TOPS से हुईं बाहर

दो बार के ओलंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार से भी नहीं रही सरकार को 2020 ओलिंपिक में मेडल की उम्मीद

Updated On: Nov 15, 2018 10:10 PM IST

FP Staff

0
स्वप्ना बर्मन को जूते तो मिल गए लेकिन रुक गई सरकारी मदद, TOPS से हुईं बाहर

गाल ही में एशियाड में हेप्टाथलन जैसे मुश्किल इवेंट में गोल्ज मेडल जीतकर चर्चा में आई एथलीट स्वप्ना बर्मन और दो बार के ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार में अब खेल मंत्रालय को मेडल की उम्मीद नजर नहीं आ रही है.

ओलंपिक में दो बार के पदक विजेता सुशील कुमार और एशियाई खेलों में हेप्टाथलन में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली एथलीट स्वप्ना बर्मन को गुरुवार को लक्ष्य ओलंपिक पोडियम कार्यक्रम (टॉप्स) की सूची हटा दिया गया. नई सूची को टोक्यो ओलिंपिक 2020 को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है.

एसाड के दौरान अने पैर के पंजों में छह उंगलियों के चलते विश्ष जूतो कती मांग करने वाली स्वप्ना को एक कंपनी ने जूते तो मुहैया करा दिए लेकिन अब सरकार ने उनकी मदद रोक दी है.

वहीं बीजिंग ओलंपिक 2008 में कांस्य और लंदन ओलंपिक 2012 में 66 किग्रा में रजत पदक जीतने वाले सुशील इस साल जकार्ता एशियाई खेलों में 74 किग्रा में अपने पहले क्वालीफाईंग मुकाबले में हार गए थे और यह परिणाम उनके पक्ष में नहीं गया. ओलिंपिक 2020 और 2024 को ध्यान में रखते हुए सरकार के मिशन ओलंपिक विभाग ने गुरुवार को तीन खेलों - एथलेटिक्स, कुश्ती और भारोत्तोलन की समीक्षा की है.

एथलेटिक्स में खिलाड़ियों की संख्या 31 से घटाकर 10 कर दी गयी है जिसमें ट्रिपल जंप के एथलीट अरपिंदर सिंह और स्टीपलचेजर अविनाश साबले के रूप में दो नए चेहरे शामिल हैं. नीरज चोपड़ा, सीमा पूनिया, मोहम्मद अनस, हिमा दास, अयासामी धारुण, जिन्सन जॉनसन अैर श्रीशंकर मुरली को सूची में बरकरार रखा गया है. (इनपुट भाषा)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi