S M L

वर्ल्‍ड रेसलिंग चैंपियनशिप में रैंकिंग पाने वाले बजरंग पहले भारतीय पहलवान बने

20 से 28 अक्‍टूबर तक बुडापेस्‍ट में होने वाली चैंपियनशिप के लिए 30 सदस्‍यीय भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है

Updated On: Oct 12, 2018 11:45 AM IST

FP Staff

0
वर्ल्‍ड रेसलिंग चैंपियनशिप में रैंकिंग पाने वाले बजरंग पहले भारतीय पहलवान बने

इसी माह बुडापेस्‍ट में होने वाली विश्‍व चैंपियनशिप के लिए 30 सदस्‍यीय भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है और इस टीम में कॉमनवेल्‍थ और एशियन गेम्‍स के गोल्‍ड मेडलिस्‍ट पहलवान बजरंग पूनिया ही एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्‍हें रैंकिंग दी गई है. 20 से 28 अक्‍टूबर तक होने वाले इस चैंपियनशिप में बजरंग को 65 किग्रा भारवर्ग में तीसरी वरीयता दी गई है. गौरतलब है कि रेसलिंग को प्रशंसकों के लिए आसान, एथलीट और कोचेज को प्रत्‍येक टूर्नामेंट और मैच का प्रभाव समझाने के लिए पिछले साल यूनाइटेड वर्ल्‍ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) ने रैंकिंग प्रणाली की घोषणा की थी. उसके बाद पहली बार इस प्रणाली का इस्‍तेमाल किया जा रहा है. यूडब्ल्यूडब्ल्यू ने सभी 30 कैटेगरी में रैंकिंग हासिल करने वाले रेसलर की भी कुछ समय पहले ही घोषणा कर दी थी. विश्व संस्था द्वारा जारी रैंकिंग तालिका में बजरंग के नाम 45 अंक हैं. बजरंग के अलावा 65 किग्रा भारवर्ग में तुर्की के सेलाहात्तिन किलिसाल्लायान (50 अंक) को शीर्ष वरीयता मिली है जबकि रूस के ईलियास बेक्बुलातोव दूसरे वरीयता होंगे. बजरंग ने 2013 में इस प्रतियोगिता में ब्रॉन्‍ज पदक जीता था और अब उनका लक्ष्य इसमें गोल्‍ड का है, जिसके वह मजबूत दावेदार हैं. वह पिछले दो सप्ताह से मात्रहाजा ओलिंपिक प्रशिक्षण केन्द्र में ट्रेनिंग कर रहे हैं.

हर कैटेगरी में सिर्फ चार को रैंकिंग

इससे पहले पहलवानों को रैंडम ड्रॉ के लिए विभिन्न ग्रुप में बांटा जाता था. जॉर्जिया में हुए तबलीसी ग्रां प्री और इस्तांबुल के यासर डोगू इंटरनेशनल जैसे रैंकिंग वाले टूर्नामेंटों के आधार पर विश्व चैंपियनशिप के लिए रैंकिंग अंक निर्धारित किए गए हैं. प्री वर्ल्‍ड प्रतियोगिता के शीर्ष चार पर रहे पहलवानों को ही रैंकिंग दी गई है और यह रैंकिंग खिलाड़ी को दी गई है, इसीलिए उसी देश के फेडरेशन के पहलवान को भी रैंकिंग पाने वाले पहलवान की रैंकिंग ट्रांसफर नहीं की जा सकती. यदि रैंकिंग पाने वाला खिलाड़ी अपने भारवर्ग में नामित नहीं होता है तो उसकी रैंकिंग अगले रेसलर को दे दी जाएगी और इसी तरह से बाकी बचे तीन रेसलर एक पायदान उपर आ जाएंगे. ऐसे में चौथी रैंकिंग वाले खिलाड़ी की जो जगह खाली होगी, वहां रैंडम ड्रॉ ही होगा. वर्ल्‍ड चैंपियनशिप के परिणाम भी रैंकिंग में जोड़े जाएंगे और इसके बाद सह प्रणाली 2019 से पूरी तरह से प्रभावी हो जाएंगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi