S M L

विश्‍व महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप : मैरी कॉम सहित चार भारतीय क्वार्टर फाइनल में, सरिता हारीं

पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम अब सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए मंगलवार को चीन की वु यू से भिड़ेंगी

Updated On: Nov 18, 2018 10:03 PM IST

Bhasha

0
विश्‍व महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप : मैरी कॉम सहित चार भारतीय क्वार्टर फाइनल में, सरिता हारीं

पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम (48 किग्रा) सहित भारत की चार मुक्केबाजों ने रविवार को नई दिल्ली में विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की, लेकिन एल सरिता देवी (60 किग्रा) में हार का सामना करना पड़ा.

मैरी कॉम ने केडी जाधव हाल में कजाखस्तान की ऐजरिम कासेनायेवा को 5-0 से पराजित किया. भारत के लिए दोपहर के सत्र में युवा मुक्केबाज मनीषा मोन (54 किग्रा), लवलीना बोरगोहेन (69 किग्रा) और भाग्यवती काचरी (81 किग्रा) ने अपने मुकाबलों में जीत हासिल की थी. विश्व चैंपियनशिप में छह पदक जीत चुकी मैरी कॉम ने अपने अनुभव से कजाखस्तान की मजबूत प्रतिद्वंदी को चित किया. अब वह सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए मंगलवार को चीन की वु यू से भिड़ेंगी, जिन्होंने फिलीपींस की जोसी गाबुको को मात दी.

पिछली बार भारत में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में सरिता ने यहां देशवासियों के सामने स्वर्ण पदक जीता था और वह दोबारा यह कारनामा करने की कोशिश में थीं, लेकिन आयरलैंड की 2016 विश्व चैंपियनशिप की रजत पदकधारी एने कैली हैरिंगटन से 2- 3 से हार गईं, जिसमें रैफरी ने सरिता के गिरने से काउटिंग शुरू कर दी.

सरिता ने बाद में कहा कि वह परिणाम से खुश नहीं हैं. उन्होंने कहा, ‘खुश नहीं हूं, लेकिन कुछ नहीं कर सकते. हार जीत जिंदगी में लगी रहती है. यह फैसला मेरे पक्ष में होना चाहिए था. मैं विपक्षी का पैर लगने से गिरी थी और रैफरी ने काउंटिंग शुरू कर दी. हालांकि इससे अंक नहीं कटते, लेकिन दूसरे के पक्ष में नतीजा कर दिया गया. मैंने तीनों राउंड जीते, लेकिन फैसला उनका था. दूसरे राउंड में काउंटिंग कर दी. लेकिन फैसला दूसरे के पक्ष में कर दिया तो कुछ नहीं कर सकते.’ सरिता से पूछा गया कि क्या वह इसकी शिकायत करेंगी, उन्होंने कहा, ‘नहीं, एक बार एशियाई खेलों के दौरान शिकायत की थी तो प्रतिबंध लगा दिया था. मैं अब अगले टूर्नामेंट की तैयारी में लग जाऊंगी.’

New Delhi: India's Mary Kom after defeating Aigerim Kassenayeva of Kazakhstan in the women's light flyweight 48 kg category bout to enter quarterfinals at AIBA Women's World Boxing Championshipos, in New Delhi, Sunday, Nov 18, 2018. (PTI Photo/Arun Sharma) (PTI11_18_2018_000123B)

35 साल की मैरी कॉम का डिफेंस काफी बेहतर रहा और वह बीच-बीच में ताकतवर मुक्कों से कासेनायेवा के खिलाफ अंक जुटाती रहीं. इससे जजों का फैसला 30–27, 30–27, 30–27, 30-27, 29-28 से उनके पक्ष में रहा.

मैरी कॉम ने कहा, ‘पहले दौर की चुनौती जीतकर खुश हूं. दबाव था, लेकिन ऐसे दबाव पहले भी झेल चुकी हूं. सबकी मुझसे काफी उम्मीदें हैं. लेकिन दर्शकों के उत्साह और ऊर्जा से प्रेरणा मिलती है.’ अगले मुकाबले के बारे में मैरी कॉम ने कहा, ‘मेरे खिलाफ चीन की लड़की है जो काफी चतुर और समझदार है. मैं इसी के हिसाब से रणनीति बनाकर खेलूंगी.’

युवा मनीषा ने की जीत की शुरुआत

सरिता से पहले रिंग में उतरी सभी भारतीय मुक्केबाजों ने शानदार जीत से अगले दौर में प्रवेश किया. भारत के लिए दिन में जीत की शुरुआत युवा मनीषा ने की, जिन्होंने मौजूदा विश्व चैंपियन कजाखस्तान की डिना जोलामैन को 5-0 से परास्त किया. मनीषा ने अपने प्रतिद्वंदी से लंबे होने का फायदा उठाया. उन्होंने फिर से दूर से खेलते हुए दाएं और बाएं हाथ के पंच लगाने की अपनी रणनीति कायम रखी जिसका नतीजा फिर उनके हक में रहा. पांचों जज ने उन्हें 30-27, 30-27, 30-27, 29-28, 29-28 अंक प्रदान किए. पिछले मुकाबले में अमेरिका की अनुभवी व पिछली विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदकधारी क्रिस्टीना क्रूज को शिकस्त देने वाली मनीषा पोलैंड में हुए टूर्नामेंट में भी डिना को हराया था. अब पदक दौर में पहुंचने के लिए उनका सामना मंगलवार को शीर्ष वरीय और 2016 विश्व चैंपियनिशप की रजत पदक विजेता स्टोयका पैट्रोवा से होगा.

लवलीना ने एथेयना बाईलोन को हराया

New Delhi: India's Lovlina Borgohain (Blue) is declared winner against Atheyna Bylon of Panama in the women's 69kg category bout at the AIBA Women's World Boxing Championships, in New Delhi, Sunday, Nov 18, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI11_18_2018_000105B)

वहीं लवलीना ने दिन की दूसरे मुकाबले में पनामा की एथेयना बाईलोन को सर्वसम्मत फैसले में 5 -0 से हराया. इस मुकाबले में हालांकि दोनों मुक्केबाजों ने कई बार एक दूसरे को नीचे गिराया. असम की यह मुक्केबाज काफी मजबूत है और उसने शुरू से ही आक्रामकता अख्तियार की, लेकिन पनामा की एथेयना अपने रक्षण से उन्हें दूर रखने की कोशिश की. भारतीय मुक्केबाज हालांकि जजों के फैसले में अव्वल उतरीं. उन्हें सभी पांचों जज ने 30-27 समान अंक दिए. अब लवलीना मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया की काये फ्रांसेस स्कॉट से भिड़ेंगी, जिन्होंने एक अन्य मुकाबले में कजाखस्तान की अकरके बखितजान को 5 -0 से पराजित किया.

मुकाबले के बाद लवलीना ने कहा, ‘फिटनेस इस मुकाबले में काफी अहम रही. अब अगले मुकाबले के बारे में सोच रही हूं जिसमें ऑस्ट्रेलियाई मुक्केबाज से भिड़ूंगी, मुझे लगता है कि मैं उससे अच्छी हूं. मैं उससे अभ्यास कर चुकी हूं.’

भाग्यवती ने इरिना श्कोनबर्गर को मात दी

New Delhi: India's Kachari Bhagyabati (Red) fights against Irina-Nicoletta Schonberge of Germany in the women's 81kg category bout at the AIBA Women's World Boxing Championships, in New Delhi, Sunday, Nov 18, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI11_18_2018_000117B)

भाग्यवती ने लाइट हैवीवेट के शुरुआती दौर के मुकाबले में जर्मनी की इरिना श्कोनबर्गर को 4-1 से हराया और अब वह 20 नवंबर को कोलंबिया की जेसिका पाओला से भिड़ेंगी. भाग्यवती को लंबाई कम होने के कारण जर्मनी की मुक्केबाज के खिलाफ थोड़ा ज्यादा प्रयत्न करना पड़ा. हालांकि उनका पैर का मूवमेंट थोड़ा कमजोर लगा, लेकिन वह जबरदस्त मुक्कों की बदौलत जीत दर्ज करने में कामयाब रहीं.

भारतीय महिला टीम के कोच इटली के रफाएल बर्गामास्को ने कहा, ‘उसकी लंबाई थोड़ी कम थी और उसका पैर का मूवमेंट थोड़ा धीमा है, लेकिन कुछ समय बाद वह निश्चित रूप से इसमें सुधार कर लेगी. वह कुछ समय पहले ही राष्ट्रीय शिविर से जुड़ी है, बदलाव करने में थोड़ा समय जरूर लगेगा. युवा चीजें जल्दी सीख लेते हैं.’

सोमवार को चार मुक्केबाज चुनौती पेश करेंगी

सोमवार को भारत की चार मुक्केबाज चुनौती पेश करेंगी. पिंकी रानी 51 किग्रा में एलिसी लिली जोंस से, सोनिया 57 किग्रा में बुल्गारिया की स्टैनिमीरा पेत्रोवा से, 64 किग्रा में सिमरजीत कौर स्कॉटलैंड की मेगान रेड से भिड़ेंगी, जबकि 75 किग्रा में स्वीटी बूरा का सामना पोलैंड की एलजिबिएटा वोजसिक से होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi