S M L

विंटर ओलिंपिक 2018 : अपने अंतिम ओलिंपिक में 34वें स्थान पर रहे शिवा केशवन

भारतीय ल्यूज खिलाड़ी शिवा केशवन का ये छठा और आखिरी विंटर ओलिंपिक था

Updated On: Feb 11, 2018 10:53 PM IST

FP Staff

0
विंटर ओलिंपिक 2018 : अपने अंतिम ओलिंपिक में 34वें स्थान पर रहे शिवा केशवन

छठी और आखिरी बार विंटर (शीतकालीन) ओलिंपिक में भाग ले रहे भारत के शिवा केशवन का अभियान रविवार को प्योंगचांग में समाप्त हो गया. पुरुष सिंगल्स ल्यूज स्पर्धा में शिवा केशवन 34वें स्थान पर रहे. इसके साथ ही उन्होंने अपने दो दशक से अधिक लंबे अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कहा.

36 साल के केशवन ने अपने ओलिंपिक अभियान का सर्वश्रेष्ठ समय निकाला और ओलिंपिक स्लाइडिंग सेंटर में तीसरे राउंड की हीट में 1344 मीटर के ट्रैक को 48 .900 सेकेंड में पूरा किया. वह तीसरी हीट में 40 प्रतिभागियों में 30वें जबकि तीन दौर के बाद कुल 34वें स्थान पर रहे. तीन दौर के बाद शीर्ष 20 में जगह नहीं बनाने के कारण केशवन चौथे और अंतिम दौर में हिस्सा नहीं ले पाए, जिसमें पदक का फैसला हुआ. केशवन दूसरे दौर के बाद भी कुल 34वें स्थान पर चल रहे थे. तीन दौर के बाद उनका कुल समय दो मिनट, 28.188 सेकेंड रहा.

केशवन ने फिनिश लाइन पार करते ही दर्शकों का अभिवादन किया और अपने स्लेड को अंतिम बार सिर के ऊपर उठाकर दर्शकों की ओर लहराया. दर्शकों के बीच उनके परिवार के सदस्य भी मौजूद थे. हिमाचल के मनाली के समीप वशिष्ठ के रहने वाले केशवन दो दशक से अधिक समय तक देश में विंटर ओलिंपिक का चेहरा रहे. उन्होंने प्योंगचांग खेलों से ठीक पहले कहा था कि ये ओलंपिक उनके करियर की अंतिम अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता होगी.

केरल के भारतीय पिता और इतालवी मां के बेटे केशवन का जन्म मनाली में हुआ और वह वहीं पले-बढ़े. उन्होंने 1998 में जापान के नगानो में मात्र 16 बरस की उम्र में पहली बार विंटर ओलंपिक में हिस्सा लिया. इसके बाद उन्होंने प्रत्येक विंटर ओलंपिक में हिस्सा लिया. वह ल्यूज में गत एशिया चैंपियन और सबसे तेज समय का रिकॉर्ड बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने 2011, 2012, 2016 और 2017 में एशिया ल्यूज चैंपियनशिप जीती.

ऑस्ट्रिया के डेविड ग्लेयरशर ने स्वर्ण पदक जीता, जबकि अमेरिका के क्रिस माजदेर ने रजत पदक हासिल किया जो उनके देश का पुरुष ल्यूज एकल में पहला पदक है. जर्मनी के योहानेस लुडविग ने कांस्य पदक हासिल किया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi