S M L

विंटर ओलिंपिक 2018: 26 साल बाद रूस ने जीता हॉकी का स्वर्ण, गाया प्रतिबंधित राष्ट्रगान

किरील कापरिजोव ने जर्मनी के ​खिलाफ पावर प्ले गोल करके अपनी टीम को 4-3 से जीत दिलाई

Updated On: Feb 25, 2018 07:37 PM IST

Bhasha

0
विंटर ओलिंपिक 2018: 26 साल बाद रूस ने जीता हॉकी का स्वर्ण, गाया प्रतिबंधित राष्ट्रगान

साउथ कोरिया के प्योंगचांग में संपंन हुए विंटर ओलिंपिक में आखिरी दिन रूस ने सडन डेथ में 26 साल बाद हॉकी का स्वर्ण जीत लिया और बर्फ पर अपने देश का प्रतिबंधित राष्ट्रगान गाया.

किरील कापरिजोव ने जर्मनी के खिलाफ पावर प्ले गोल करके अपनी टीम को 4-3 से जीत दिलाई. रूस की तरफ से सर्वाधिक गोल करने वाले इलिया कोवालचुक ने कहा, ‘‘रूस में हर कोई मैच पर नजर गड़ाये हुए था और वे जश्न मना रहे हैं. सोमवार का दिन रूस में छुट्टी का दिन होगा.’’ रूस के कप्तान पावेल दात्सयुक ने कहा, ‘‘यह बेहद महत्वपूर्ण पल है. हम सभी बहुत खुश हैं.’’

रूस ने 1992 में अल्बर्टविले खेलों में आखिरी बार  हॉकी का स्वर्ण पदक जीता था. तब उसने एकीकृत टीम के रूप में हिस्सा लिया था.

व्यवस्थित डोपिंग के कारण रूस पर प्रतिबंध लगा है और इसके कारण रूसी ध्वज की बजाय ओलंपिक ध्वज और रूसी राष्ट्रगान के स्थान पर ओलंपिक गीत बजा, लेकिन रूसी खिलाड़ियों ने अपने समर्थकों के साथ राष्ट्रगान गाया.

फोटो साभार: ओलिंपिक्स ट्विटर हैंडल से

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi